previous arrow
next arrow
Slider
Home न्यूज़ राष्ट्रीय कभी बहुमत नहीं जुटा पाने ताे कभी देना पड़ा था पद से...

कभी बहुमत नहीं जुटा पाने ताे कभी देना पड़ा था पद से त्यागपत्र, 20 साल में इस तरह 7वीं बार बिहार के मुख्यमंत्री बने नीतीश कुमार

पटनाः  बिहार की राजनीति में एक नया इतिहास रचते हुए नीतीश कुमार ने सोमवार को दो दशक में सातवीं बार प्रदेश के मुख्यमंत्री पद की शपथ ग्रहण की. केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह और भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जगत प्रकाश नड्डा जैसे राजग के शीर्ष नेताओं की मौजूदगी में राजभवन में आयोजित समारोह में राज्यपाल फागू चौहान ने कुमार को पद एवं गोपनीयता की शपथ दिलाई. 69 वर्षीय नीतीश कुमार के साथ भाजपा विधानमंडल दल के नेता एवं कटिहार से विधायक तारकिशोर प्रसाद, उपनेता एवं बेतिया से विधायक रेणु देवी ने भी शपथ ग्रहण की. समझा जाता है कि तारकिशोर प्रसाद और रेणु देवी को उपमुख्यमंत्री बनाया जा सकता है. नीतीश कुमार राज्य के मुख्यमंत्री पद पर सर्वाधिक लंबे समय तक रहने वाले श्रीकृष्ण सिंह के रिकॉर्ड को पीछे छोड़ने की ओर बढ़ रहे हैं जिन्होंने आजादी से पहले से लेकर 1961 में अपने निधन तक इस पद पर अपनी सेवाएं दी थीं.

नीतीश कुमार साल 2000 में पहली बार बने थे बिहार के मुख्यमंत्रीः 
नीतीश कुमार ने सबसे पहले 2000 में प्रदेश के मुख्यमंत्री पद की शपथ ली थी लेकिन बहुमत नहीं जुटा पाने के कारण उनकी सरकार सप्ताह भर चली और उन्हें केंद्र में अटल बिहारी वाजपेयी की सरकार में मंत्री के रूप में वापसी करनी पड़ी थी. पांच साल बाद वह जदयू-भाजपा गठबंधन की शानदार जीत के साथ सत्ता में लौटे और 2010 में गठबंधन के भारी जीत दर्ज करने के बाद मुख्यमंत्री का सेहरा एक बार फिर से नीतीश कुमार के सिर पर बांधा गया. मई 2014 में लोकसभा चुनाव में जदयू की पराजय की नैतिक जिम्मेदारी लेते हुए उन्होंने मुख्यमंत्री पद से त्यागपत्र दे दिया लेकिन जीत राम मांझी के बगावती तेवरों के कारण उन्हें फरवरी 2015 में फिर से कमान संभालनी पड़ी.

भाजपा के सात विधायकों और जनता दल(यू) कोटे से पांच विधायकों ने ली मंत्री पद की शपथः
भाजपा कोटे से सात विधायकों और जनता दल (यू) कोटे से पांच विधायकों ने मंत्री पद की शपथ ली . इसके अलावा ‘हम’ पार्टी से संतोष कुमार सुमन और वीआईपी पार्टी के मुकेश सहनी ने भी पद एवं गोपनीयता की शपथ ली. इस बार भाजपा से कई बड़े चेहरों को मंत्रिमंडल में स्थान नहीं मिला जिसमें सुशील कुमार मोदी, नंद किशोर यादव और प्रेम कुमार शामिल हैं.

विजय कुमार चौधरी और विधायक बिजेन्द्र प्रसाद यादव ने भी ली शपथः
नीतीश कुमार मंत्रिमंडल में शपथ लेने वालों में जद(यू) कोटे से विजय कुमार चौधरी का नाम प्रमुख है. इसके अलावा सुपौल से जद(यू) विधायक बिजेन्द्र प्रसाद यादव, जद(यू) के कार्यकारी अध्यक्ष एवं विधान पार्षद अशोक चौधरी, तारापुर से विधायक मेवालाल चौधरी तथा पुलपरास से विधायक शीला कुमारी शामिल हैं. भाजपा के कोटे से नीतीश सरकार में वरिष्ठ नेता एवं विधान पार्षद मंगल पांडे ने शपथ ग्रहण की. पांडे पिछली सरकार में स्वास्थ्य मंत्री थे. इसके अलावा आरा से भाजपा विधायक अमरेंद्र प्रताप सिंह तथा राजनगर से विधायक रामप्रीत पासवान ने भी शपथ ग्रहण की. रामप्रीत पासवान ने मैथिली में शपथ ली. नीतीश सरकार में दरभंगा के जाले सीट से विधायक जीवेश कुमार ने भी मैथिली में शपथ ली. औराई से भाजपा विधायक रामसूरत राय ने भी मंत्री पद की शपथ ली.

हिन्दुस्तानी आवाम मोर्चा से संतोष कुमार सुमन ने ली शपथः 
हिन्दुस्तानी आवाम मोर्चा से जीतन राम मांझी के पुत्र संतोष कुमार सुमन ने शपथ ग्रहण की. वहीं विकासशील इंसान पार्टी के प्रमुख मुकेश सहनी ने भी पद एवं गोपनीयता की शपथ ली. सहनी ने इस बार सिमरी बख्तियारपुर से चुनाव लड़ा था लेकिन वे चुनाव हार गए थे. वीआईपी पार्टी को चुनाव में चार सीटें मिलीं. शपथग्रहण समारोह में केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह, भाजपा अध्यक्ष जे पी नड्डा, देवेन्द्र फडणवीस, सुशील कुमार मोदी सहित भाजपा के शीर्ष नेता मौजूद थे.

हमारें अन्य चेनल देखने के लिए निचे दिए वाक्यों पर क्लिक करे
वीडयो चेनल, भीलवाड़ा समाचार,  सभी समाचारों के साथ नवीनतम जानकारियाँ , राष्ट्रीय खबरों के साथ जानकारियाँ, स्थानीय, धर्म, नवीनतम |

 

Most Popular

प्रदेश में अक्षय ऊर्जा के क्षेत्र में निवेश की अपार संभावनाए – ऊर्जा मंत्री

जयपुर। ऊर्जा मंत्री डॉ. बी.डी.कल्ला द्वारा प्रदेश राष्ट्र एवं अंतरराष्ट्रीय स्तर के निजी निवेशकों का आह्वान किया गया कि राजस्थान में अक्षय ऊर्जा के...

किसानों के बुराड़ी ग्राउंड में शिफ्ट होने के दूसरे ही दिन सरकार बात के लिए तैयार: अमित शाह

नई दिल्ली। विभिन्न मांगों को लेकर पंजाब और हरियाणा के किसानों के दिल्ली सीमा का घेराव किए जाने पर गृहमंत्री अमित शाह ने बड़ा...

बिहार में हर हाल में हो अपराध नियंत्रण : नीतीश

बिहार में हर हाल में हो अपराध नियंत्रण : नीतीश पटना। बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने अपनी नई पारी की शुरुआत करते ही राज्य...

अन्याय के खिलाफ आवाज उठाना कोई अपराध नहीं, बल्कि कर्तव्य : राहुल

नई दिल्ली। पूर्व कांग्रेस प्रमुख राहुल गांधी ने शनिवार को कहा कि अन्याय के खिलाफ आवाज उठाना कोई अपराध नहीं, बल्कि कर्तव्य है। यह...
We would like to show you notifications for the latest news and updates.
Dismiss
Allow Notifications