डायरिया रोग से शून्य बाल्यकाल मृत्यु‘‘ के उद्देश्य से राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन द्वारा ‘‘सशक्त दस्त नियंत्रण पखवाड़े‘‘ का आयोजन 7 जुलाई से

डायरिया रोग से शून्य बाल्यकाल मृत्यु‘‘ के उद्देश्य से राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन द्वारा ‘‘सशक्त दस्त नियंत्रण पखवाड़े‘‘ का आयोजन 7 जुलाई से

भीलवाड़ा जिले में 4 लाख 46 हजार 703 बच्चों को दिए जाएंगे निशुल्क ORS पैकेट

भीलवाडा 06 जुलाई। राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन व भीलवाड़ा जिला कलक्टर श्री शिवप्रसाद एम. नकाते के निर्देशानुसार ‘‘डायरिया रोग से शून्य बाल्यकाल मृत्यु‘‘ के उद्देश्य से सशक्त दस्त नियंत्रण पखवाड़े का आयोजन बुधवार 7 जुलाई से जिले में शुरू किया जा रहा है ।

एसीएमएचओ श्री सीपी गोस्वामी ने बताया कि 5 वर्ष से कम उम्र वाले बालक के दो बार डायरिया होने से कुपोषित होने की संभावना रहती है व मृत्यु तक हो जाती है,

इसी के तहत राज्य सरकार द्वारा बुधवार से इस पखवाड़े का आयोजन किया जा रहा है जिसके अंतर्गत जिले में 4लाख 46हजार 703 बच्चों को ओआरएस के पैकेट आशा ,आंगनबाड़ी कार्यकर्ता व नर्सिंग स्टाफ द्वारा प्रत्येक प्राथमिक, सामुदायिक व उप स्वास्थ्य केंद्रों पर वितरित किए जाएंगे ।

श्री गोस्वामी ने बताया कि डायरिया के लक्षण मिलने पर ओआरएस के साथ जिंक की टेबलेट भी दी जाएगी ।

जिला परिषद के सीईओ श्री रामचंद्र बेरवा ने बताया कि जिले में प्रत्येक आंगनबाड़ी केंद्र पर ‘‘ओआरएस जिंक कॉर्नर‘‘ की स्थापना कर गुरुवार 8 जुलाई से मातृ शिशु पोषण दिवस के अवसर पर जनप्रतिनिधियों के माध्यम से इसका शुभारंभ कर आंगनबाड़ी केंद्रों पर भी डायरिया रोकथाम हेतु ओआरएस पैकेट बांटे जाएंगे ।

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here