previous arrow
next arrow
Slider
Home राज्य मध्यप्रदेश बुजुर्ग मां-बेटे समेत 3 को खंभे से बांधकर पीटा, रिक्शा चोरी के...

बुजुर्ग मां-बेटे समेत 3 को खंभे से बांधकर पीटा, रिक्शा चोरी के आरोप में मोहल्ले के लोग पकड़कर लाए; पुलिस ने बचाया

अलवर। श्योलालपुरा इलाके में सोमवार को एक बुजुर्ग महिला, उसके बेटे समेत 3 लोगों को मोहल्ले के लोगों ने बिजली के खंभे से बांधकर पीटा। इन तीनों पर तीन रिक्शों की चोरी करने का आरोप है। मोहल्ले के कई लोग मिलकर इन्हें अलग-अलग जगह से पकड़कर लाए। फिर एक खंभे से महिला नैना को बांधा गया, जबकि दूसरे से महिला के बेटे गोपाल और तीसरे व्यक्ति राजू को बांधकर जमकर पीटा। पिटाई में तीनों के सिर से खून बहने लगा। बाद में मौके पर पहुंची पुलिस ने मोहल्ले के 5 लोगों को हिरासत में लिया है।

बुजुर्ग महिला बोली- बुरी तरह से पीटा, पुलिस नहीं आती तो मार डालते
पीड़ित बुजुर्ग महिला नैना ने कहा कि उनके साथ बुरी तरह मारपीट की गई है। उनके बेटे को भी लाठी-डंडे से मारा गया है। जबकि उन्होंने कोई चोरी नहीं की है। वहीं, दो अन्य राजू और गोपाल ने बताया कि उनको जबरदस्ती चोरी के आरोप में जेल चौराहे से पकड़कर लाए हैं। जबकि महिला नैना को शिकारीबास से पकड़कर लाए हैं। बुजुर्ग महिला ने कहा कि अगर पुलिस समय से नहीं आती तो यह लोग पीट-पीटकर मार डालते। वहीं, दूसरी तरफ पुलिस के पहुंचने के बाद मोहल्ले में रहने वाले चुन्नीलाल ने कहा कि खंभे पर बांधने से पहले दोनों व्यक्तियों ने आपस में एक दूसरे के साथ मारपीट की। इसमें उनके सिर से खून निकल आया। उनके लोगों ने तो सिर्फ तीनों को खंभे से बांधा है।
पुलिस ने 5 को हिरासत में लिया
करीब एक घंटे बाद सूचना पर पहुंची पुलिस ने आकर तीनों को छुड़ाया और इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया। दोनाें व्यक्तियों के सिर पर काफी चोटें हैं। इस मामले में पुलिस ने श्योलालपुरा मोहल्ले के 5 लोगों को हिरासत में लिया है। इनसे पूछताछ की जा रही है। पुलिस ने कहा कि जल्दी मारपीट करने वालों की गिरफ्तारी होगी। चोरी के मामले की भी जांच की जा रही है।

मोहल्ले के लोगों ने कहा- ये लोग 3 रिक्शे चोरी करके ले गए
श्योलालपुरा मोहल्ले में रहने वाले चिंरजीलाल और पुष्पा देवी ने बताया कि ये तीनों लोग रिक्शा चोरी करके ले जा चुके हैं। चोरी की शिकायत पुलिस को दी गई। लेकिन, पुलिस ने कोई सुनवाई नहीं की। यही नहीं गोपाल को चोरी के आरोप में दो दिन पहले ही पुलिस को सौंपा था। पुलिस गोपाल को थाने भी लेकर गई। लेकिन, कोई कार्रवाई नहीं की। इसके बाद मजबूरन मोहल्ले के लोगों ने इन लोगों को पकड़ा। यहां लेकर आए। इसके बाद खंभों से बांधा है। बांधने से पहले ये दोनों व्यक्ति आपस में लड़ पड़े। इसमें इनको चोट आई हैं।


Source link

Most Popular