previous arrow
next arrow
Slider
Home राज्य मध्यप्रदेश बेटी-बचाओ बेटी-पढ़ाओं अभियान के तहत झुंझुनूं जिले ने एक और नई पहल

बेटी-बचाओ बेटी-पढ़ाओं अभियान के तहत झुंझुनूं जिले ने एक और नई पहल

झुंझुनूं,। बेटी-बचाओ बेटी-पढ़ाओं अभियान के तहत झुंझुनूं जिले ने एक और नई पहल करते हुए शुक्रवार को जिला कलक्टर उमरदीन खान एवं जिला पुलिस अधीक्षक जगदीश चन्द्र शर्मा ने कलेक्ट्रेट सभागार में बेटी-बचाओ बेटी-पढ़ाओं की ऑनलाईन महाशपथ लेते हुए स्वयं ऑनलाईन शपथ पत्र को भरकर सभागार में उपस्थित सभी को शपथ दिलाई।

कलक्टर खान ने बताया कि जिले में बेटी-बचाओं बेटी पढ़ाओं अभियान को लेकर काफी सफल कार्यक्रम हुए हैं, उसी के तहत जिले में बेटियों को नव वर्ष पर नई ऊर्जा के साथ ही उनका संचार हो, महिलाएं सशक्त और आत्मनिर्भर के साथ ही वे स्वस्थ रहें, इसी अभियान के तहत बेटियों के प्रति लोगों को जागरूक करने तथा बेटियों को पढ़ाने के लिए जिले में करीब 2 लाख 51 हजार लोगों को ऑनलाईन महाशपथ दिलवाने का कार्य शुरू किया गया हैं, उन्होंने जिले के सभी नागरिकों से अपील करते हुए कहा कि जिले की जनसख्ंया के अनुसार इस महाशपथ अभियान में लोग अधिक से अधिक हिस्सा लेकर इस अभियान को सफल बनाएं। हर व्यक्ति को महाशपथ अभियान के तहत एक लिंक भैजा जाएगा, जिसमें हर व्यक्ति महिलाओं के उत्थान एवं सम्मान के लिए शपथ लेगा।

जिला कलक्टर ने एनीमिया मुक्त झुंझुनूं अभियान की घोषणा कर किया शुभारम्भ   जिला कलक्टर उमरदीन खान ने बताया कि महिलाओं में मुख्य रूप से हिमोग्लोबिन की कमी पाई गई हैं, उन्होंने स्वयं बीडीके अस्पताल में विजिट के दौरान सर्वे किया तो अस्पताल में महिला से पूछा तो हिमोग्लोबिन चार बताया गया, इसी को देखते हुए जिले में नव वर्ष के आगाज के साथ ही महिलाओं के स्वास्थ्य एवं उनके उत्थान को देखते हुए एनीमिया मुक्त झुंझुनूं अभियान की औपचारिक घोषणा करते हुए सर्वप्रथम कलेक्ट्रेट की महिलाओं का हिमोग्लोबिन चैक करवाया जाएगा, जिसके लिए संबंधित को निर्देशित किया हैं, झुंझुनूं जिले को एनीमिया मुक्त बनाने के लिए पायलट प्रोजेक्ट के रूप में कार्य किया जाएगा, इसमें ग्राम आबूसर को लिया गया हैं, जहां टीम मैडिकल चैकअप में महिलाओं के हिमोग्लोबिन सहित अन्य प्रकार की जांचे करेंगी, हिमोग्लोबिन कम पाएं जाने पर उसको पौष्टिक खाने के साथ ही उन्हें खाद्य सामग्री एवं आवश्यकतानुसार उपयुक्त उनका ईलाज करवाया जाएगा। कुछ दिनों बाद ही उसकी दूसरी बार जांच कि जाएगी। इस अभियान को लेकर व्यापक रणनीति बना ली गई हैं, सर्वपर््रथम महिला एवं पुरूषों का मेडिकल चैकअप करवाया जाएगा। इस अभियान के तहत समाज में एक नया संदेश देते हुए जिला प्रशासन महिलाओं के उत्थान एवं स्वास्थ्य के प्रति कटिबद्ध हैं।

जिला पुलिस अधीक्षक जगदीश चन्द्र शर्मा ने कहा कि महिलाओं की सुरक्षा एवं उत्थान के लिए पुलिस विभाग द्वारा ऑपरेशन आवाज कार्यक्रम चलाया गया था, जिसमें महिलाओं को कानून की जानकारी के साथ ही युवाओं को महिलाओं के प्रति सम्मान की भावना उत्पन्न हो इसको लेकर कार्य किया जा रहा हैं, उन्होंंने बताया महिलाओं को कानूनी जानकारी, उनके कल्याण के लिए अनेक योजनाएं सहित रोजगार संबंधित विभागीय योजनाओं के बारे में पुलिस विभाग द्वारा एक बुकलेट बनाने का कार्य किया जा रहा हैं, जो कि अंतिम चरण में हैं, महिलाओं की सुरक्षा एवं उनके उत्थान के लिए पुलिस विभाग द्वारा अनेक कार्यक्रम आयोजित किए जा रह हैं, इसी के साथ ही एनीमिया मुक्त झुंझुनूं अभियान के तहत महिलाओं के स्वास्थ्य में सुधार में आएगा। उन्होंने कहा कि एनीमिया मुक्त अभियान के तहत जिले के ऎसे क्षेत्र जो कुपौषण ग्रस्ति हो उन क्षेत्रों को चिन्हिकरण कर वहां से लोगों के हिमोग्लोबिन को चैक किया जाएं।

नव वर्ष के कलैण्ड़र का हुआ विमोचन ः जिला कलक्टर उमरदीन खान, जिला पुलिस अधीक्षक जगदीश चन्द्र शर्मा, अतिरिक्त जिला कलक्टर राजेन्द्र अग्रवाल, महिला अधिकारिता विभाग के उप निदेशक विप्लव न्यौला, जिला अल्पसंख्यक कल्याण अधिकारी मों. अनीश, पीआरओं बाबूलाल रैगर, जिला उद्योग केन्द्र के महाप्रबंधक नानूराम गहलोनियां सहित जिला स्तरीय अधिकारियों ने महिला अधिकारिता विभाग द्वारा बनाएं गए नव वर्ष कलैण्ड़र का विमोचन किया। उप निदेशक न्यौला ने बताया कि जिस स्थान पर यह कलैण्ड़र लगेगा उसे देखकर हर व्यक्ति के मन में महिलाओं एवं बेटियों के प्रति उनके मन में सम्मान की भावना पैदा होगी। इसके साथ ही इस कलैण्ड़र में विभाग द्वारा किए गए नवाचार एवं बेटियों के सम्मान में सलौगन लिखे हुए है।

इस दौरान महिला अधिकारिता विभाग के उपनिदेशक विप्लव न्यौला ने जिला कलक्टर उमरदीन खान को कार्यालय में लगाए गए फलदार पौधों का नव वर्ष पर अमरूद भैंट किया तो कलक्टर खान ने इसे नया नवाचार बताते हुए कहा कि इस प्रकार हर विभाग में फलदार पौधे लगेंगे तो वहां के कार्मिक उन्हें खाकर अपनी इम्यूनिटी पावर एवं हिमोग्लोबिन को मजबूत कर सकते हैं, उन्होंने संबंधित अधिकारियोें को अपने कार्यालय में फलदार पौधे लगाने के निर्देश दिए। इस दौरान एडीएम राजेन्द्र अग्रवाल ने कलेक्ट्रेट में हिमोग्लोबिन को बढ़ाने के लिए गुड़ व चना बंटवाने के लिए संबंधित को निर्देशित किया। इस अवसर पर महिला अधिकारिता विभाग के मनोज स्वामी, रेखा जांगिड़ सहित जिला स्तरीय अधिकारी एवं विभाग के कार्मिक उपस्थित थे।


Source link

हमारें अन्य चेनल देखने के लिए निचे दिए वाक्यों पर क्लिक करे
वीडयो चेनल, भीलवाड़ा समाचार,  सभी समाचारों के साथ नवीनतम जानकारियाँराष्ट्रीय खबरों के साथ जानकारियाँ, स्थानीय, धर्म, नवीनतम |

 

Most Popular