previous arrow
next arrow
Slider
Home भीलवाड़ा राष्ट्रीय पल्स पोलियो टीकाकरण अभियान 17 जनवरी को जिला कलक्टर ने की...

राष्ट्रीय पल्स पोलियो टीकाकरण अभियान 17 जनवरी को जिला कलक्टर ने की समीक्षा

राष्ट्रीय पल्स पोलियो टीकाकरण अभियान 17 जनवरी को
जिला कलक्टर ने की समीक्षा
भीलवाड़ा 06 जनवरी/  राष्ट्रीय पल्स पोलियो टीकाकरण अभियान 17 जनवरी को आयोजित किया जाएगा। अभियान में जन्म से 5 साल तक के सभी बच्चों को पोलियो वैक्सीन पिलाया जाएगा और बच्चों को छोटी अंगुली पर स्याही लगाई जाएगी, जिससे की पहचान की जा सके। 17 जनवरी को बच्चों को पोलियो बूथ पर प्रातः 9 से सायं 5 बजे तक पोलियो वैक्सीन पिलाया जाएगा। 18 व 19 जनवरी को वंचित बच्चों को घर-घर जाकर सर्वे कर पोलियों की खुराक दी जायेगी। अभियान समाप्ति के उपरांत क्राॅस मकानों पर पुनः बी टीम द्वारा छुटे हुये बच्चों को दवा पिलाई जायेगी। जिले में कुल 1556 बूथ पर कोविड गाईडलाइन की पालना करते हुए पोलियो की खुराक दी जायेगी। इनमें से 1437 स्थाई बूथ, 22 ट्रांजिट बूथ तथा 97 मोबाईल बूथ है। अभियान के तहत जन्म से 5 वर्ष तक के कुल 3 लाख 68 हजार 573 बच्चों को खुराक पिलाने का लक्ष्य रखा गया है।  बुधवार को जिला कलेक्ट्रेट सभागार में जिला कलक्टर श्री षिवप्रसाद एम. नकाते द्वारा अभियान की समीक्षा की गई। श्री नकाते ने कहा कि सभी जन्म से 5 साल के बच्चों को अभियान की वैक्सीन डोज दी जानी अत्यंत आवश्यक है। भारत पोलियो मुक्त हो चुका है लेकिन अभी भी कई देशों में पोलियो के केस निकल के आ रहे हैं, जिससे संक्रमण का खतरा रहता है।
उन्होंने नागरिकों से अपील की है कि 17 जनवरी को सभी अभिभावक अपने बच्चों को पोलियो वैक्सीन पिलायें।
श्री नकाते ने टीकाकरण अभियान के तहत की जाने वाली सम्पूर्ण तैयारियों की जानकारी ली। और आवष्यक निर्देष दिये। श्री नकाते ने खसरे को लेकर आमजन को जागरूक रहने को भी कहा। एसीएमएचओ ने बताया कि खसरा तीव्रता से फैलने वाला विषाणु जनित रोग है यह संक्रमित व्यक्ति के खाँसने एवं छीकने से फैलता है। खसरे के मरीज को बुखार, शरीर पर घमौरी के तरह दाने, नाक बहना, आँखों का लाल होना जैसे लक्षण दिखते है। इसे छुपाना नहीं चाहिए और तुरंत नजदीकी स्वास्थ्य केन्द्र  में दिखाएं।
मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डाॅ. मुष्ताक खान ने बताया कि अभियान के तहत घर-घर जाकर स्वास्थ्य कर्मियों द्वारा वंचित बच्चों को पोलियो वैक्सीन पिलाया जाएगा। इसके लिए सभी सेक्टर पर प्रशिक्षण आयोजित किया जा रहा है जहां स्वास्थ्य कर्मी सहित ए.एन.म. आशा व आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं को प्रशिक्षित किया जा रहा है।
एसीएमएचओ डाॅक्टर सीपी गोस्वामी ने बताया कि अभियान में क्षेत्रों को चिन्हित किया गया है जहां स्वास्थ्य कर्मियों द्वारा मोबाइल दल सहित ट्रांजिट टीम के माध्यम से वैक्सीन पिलाया जाएगा यह ध्यानाकर्षण क्षेत्रो में ईट भट्टे, घुमंतु परिवार ,निर्माणाधीन स्थल सहित रिक्त उपकेंद्र सम्मिलित है।
बैठक में एडीएम प्रषासन श्री राकेष कुमार, उप मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डाॅ. घनश्याम चावला, विष्व स्वास्थ्य संगठन के प्रतिनिधि डाॅ. स्वाति मित्तल, ब्लाॅक सीएमएचओ व  जिले के उपखण्ड अधिकारी उपस्थित रहे।
कोविड वैक्सीन को लेकर भी दिये निर्देषः
बैठक में जिले के उपखण्ड अधिकारी भी उपस्थित थे। श्री नकाते ने जिले में  कोविड वैक्सीन को लेकर उपखण्ड अधिकारियों को निर्देष दिये। उन्होने कहा कि अधिकारी अपने क्षेत्र में सेषन साईटो का निरीक्षण करे और साथ ही गाँवों में चल रहे कार्यों, पीएचसी, सीएचसी का भी निरीक्षण करें। श्री नकाते ने अधिकारियों को कोल्ड चैन मेनेजमेंट, कोविड वैक्सीन के ड्राई रन के दौरान सामने आई कमियों को दूर करने के निर्देष भी दिये।

राजस्व अधिकारियों के साथ ली मीटिंगः-
जिले के राजस्व अधिकारियो को पूर्व में वीसी के माध्यम से दिये निर्देषों की अनुपालना की जिला कलक्टर ने समीक्षा की। उन्होंने राजस्व अधिकारियो द्वारा निर्देषों की अनुपालना पर सकारात्मक रिपोर्ट प्रस्तुत करने पर सराहना की। श्री नकाते ने राजस्व अधिकारियों के साथ राजस्व प्रकरणों पर चर्चा की। चुनाव को लेकर भी अधिकारियों को निर्देष दिये गये। श्री नकाते ने मतदान केन्द्रों का भौतिक सत्यापन, कानून व्यवस्था बनाये रखने के निर्देष दिये तथा अवैध बजरी खनन को लेकर कार्यवाही करने को कहा गया।  साथ ही जो अधिकारी स्थानांतरित हो रहे है उन्हें आगामी जिम्मेदारियों को बखूबी से निभाने और अच्छे से कार्य करने को लेकर बधाई दी।

Most Popular