previous arrow
next arrow
Slider
Home न्यूज़ राजस्थान विधानसभा बजट सत्र की शुरुआत, 24 फरवरी को आएगा राजस्थान का बजट

विधानसभा बजट सत्र की शुरुआत, 24 फरवरी को आएगा राजस्थान का बजट

जयपुर: राजस्थान विधानसभा में बजट सत्र की पहले दिन की कार्रवाई राज्यपाल के अभिभाषण और दिवंगतों को श्रद्धांजलि के बाद कल 11 बजे तक के लिए स्थगित कर दी गई. सदन में आज 21 दिवंगत नेताओं के साथ उत्तराखंड और जालौर हादसे के मृतकों को श्रद्धांजलि दी गई. राज्यपाल ने अभिभाषण में कृषि कानून और पेट्रोल डीजल की कीमतों का जिक्र किया. इसमें गहलोत सरकार की कूटनीति नजर आई. देश में सबसे महंगा पेट्रोल-डीजल बेच रही गहलोत सरकार ने राज्यपाल कलराज मिश्र से अभिभाषण में कहलवा दिया- केंद्रीय उत्पाद शुल्क ज्यादा है, राज्य ने 2% वैट कम कर राहत दी है. यह तय हो गया है कि राजस्थान का बजट 24 फरवरी को पेश किया जाएगा.

मूल कर्त्तव्यों के पालन की शपथ दिलाने के बाद राज्यपाल ने पढ़ा अभिभाषण:

इससे पहले राज्यपाल के अभिभाषण के साथ ही आज से विधानसभा के बजट सत्र की शुरुआत हो गई है. राज्यपाल कलराज मिश्र ने आज अभिभाषण से पहले नई परंपरा डाली, राज्यपाल ने अभिभाषण से पहले विधानसभा में संविधान की प्रस्तावना और मूल कर्त्तव्यों को पढ़ा और सभी विधायकों ने भी इसे दोहराया. सभी विधायकों को संविधान की प्रस्तावना और मूल कर्त्तव्यों के पालन की शपथ दिलाने के बाद राज्यपाल ने अभिभाषण पढ़ा. इससे पहले सीएम अशोक गहलोत ,स्पीकर डॉ सीपी जोशी , मुख्य सचेतक महेश जोशी ,मुख्य सचिव निरंजन आर्य, विधानसभा सचिव प्रामिल कुमार माथुर ने राज्यपाल कलराज मिश्र के विधानसभा पहुचेने पर अगवानी की परंपरा निभाई और महामहिम को आसान तक लेकर आए.

राज्यपाल अभिभाषण के दौरान माकपा विधायक का हंगामा:

राज्यपाल अभिभाषण के दौरान माकपा विधायक का हंगामा नजर आया ,भादरा विधायक बलवान पूनिया वेल में पहुंच गए और कृषि कानून का विरोध जताया. राज्यपाल के अभिभाषण के दौरान तीनों केंद्रीय कृषि कानूनों के विरोध में माकपा विधायक बलवान पूनिया ने हंगामा शुरू कर दिया. उन्हे मनाने के लिए सीएम अशोक गहलोत ने शांति धारीवाल, महेश जोशी, हरीश चौधरी और महेंद्र चौधरी को भेजा. बलवान पूनिया काफी देर बाद माने।बलवान वेल में आकर हंगामा करते रहे और राज्यपाल अभिभाषण पढ़ते रहे. राज्यपाल ने करीब एक घंटे तक अभिभाषण पढ़ा.

आज से विधानसभा बजट सत्र की शुरुआत: 

राज्यपाल के अभिभाषण के साथ ही आज से विधानसभा के बजट सत्र की शुरुआत हो गई है. राज्यपाल कलराज मिश्र ने आज अभिभाषण से पहले नई परंपरा डाली, राज्यपाल ने अभिभाषण से पहले विधानसभा में संविधान की प्रस्तावना और मूल कर्त्तव्यों को पढ़ा और सभी विधायकों ने भी इसे दोहराया. सभी विधायकों को संविधान की प्रस्तावना और मूल कर्त्तव्यों के पालन की शपथ दिलाने के बाद राज्यपाल ने अभिभाषण पढ़ा. राज्यपाल के अभिभाषण की शुरुआत में राज्य में कोरोना मैनेजमेंट और कोरोना काल में किए गए कामकाज पर फोकस रहा है. अभिभाषण में कोरोना काल में हुए काम का दो पेज में जिक्र किया गया है. केंद्रीय कृषि कानूनों को बाईपास करने के लिए बनाए गए राज्य के तीन कृषि कानूनों का भरी अभिभाषण में जिक्र किया गया, राज्यपाल ने उस अंश को भी पढ़कर सुनाया. पहले इस तरह की अटकलें थीं कि शायद राज्यपाल उस अंश को न पढें, क्योंकि वे तीनों बिल राज्यपाल के पास ही लंबित पड़े हैं.

राज्यपाल की इस पहल की मुख्यमंत्री गहलोत कर चुके हैं तारीफ:

राज्यपाल ने इस बार अभिभाषण की शुरुआत संविधान की प्रस्तावना पढ़कर की. यह पहली बार हुआ है. इन दिनों राज्यपाल कलराज मिश्र हर कार्यक्रम की शुरुआत आजकल संविधान की प्रस्तावना पढ़ने से कर रहे हैं, पिछले दिनों राज्यपाल की इस पहल की मुख्यमंत्री अशोक गहलोत भी तारीफ कर चुके हैं. हालांकि, संविधान की प्रस्तावना पढ़ने की शुरुआत सीएए के विरोध में पिछले साल हुए विरोध प्रदर्शनों से हुई थी, पहली बार प्रियंका गांधी ने सीएए के विरोध प्रदर्शन में संविधान की प्रस्तावना पढ़ी थी, इसके बाद कांग्रेस के कार्यक्रमों में संविधान की प्रस्तावना पढ़ी जाने लगी. राज्यपाल कलराज मिश्र भी अब हर कार्यक्रम की शुरुआत में संविधान की प्रस्तावना और मूल कर्तव्य पढ़वाते हैं, आज विधानसभा में भी राज्यपाल ने इसकी शुरुआत की.

24 फरवरी को 11 बजे मुख्यमंत्री गहलोत पेश करेंगे बजट: 

बजट सत्र का कामकाज तय करने के लिए आज सदन की कार्यवाही स्थगित होने के बाद स्पीकर सीपी जोशी की अध्यक्षता में विधानसभा की कार्य सलाहकार समिति बीएसी की बैठक हुई. बीएसी की बैठक में बजट की तारीख और बजट सत्र का कामकाज तय किया. सरकार 24 फरवरी को बजट पेश करने जा रही है. राज्यपाल के अभिभाषण के बाद सदन में चार दिन बहस होना है, चौथे दिन ही मुख्यमंत्री अशोक गहलोत बहस का जवाब देंगे। कल से विधानसभा में राज्यपाल के अभिभाषण पर बहस शुरू होगी. 11, 12, 13 और 15 फरवरी को अभिभाषण पर बहस चलेगी. 15 फरवरी को शाम 5 बजे मुख्यमंत्री अशोक गहलोत अभिभाषण पर बहस का जवाब देंगे. 16 से 23 फरवरी को विधानसभा की कार्यवाही की छुट्टी रहेगी. 24 फरवरी को 11 बजे मुख्यमंत्री अशोक गहलोत बजट पेश करेंगे. राज्यपाल अभिभाषण से परे विधानसभा परिसर में कांग्रेस और बीजेपी नेताओं के बीच आरोप और प्रत्यारोप का दौर देखने को मिला.वहीं किसान आंदोलन के समर्थन में कांग्रेस विधायक इंदिरा मीणा ट्रैक्टर पर बैठकर विधानसभा पहुंची. राज्यपाल अभिभाषण के दौरान सदन में सचिन पायलट मौजूद रहे लेकिन पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे आज नहीं पहुंची. स्पीकर कक्ष में स्पीकर डॉ सीपी जोशी और सीएम गहलोत के बीच लंबी चर्चा हुई. आगामी दिनों में सदन में राज्यपाल अभिभाषण पर चर्चा देखने को मिलेगी.

हमारें अन्य चेनल देखने के लिए निचे दिए वाक्यों पर क्लिक करे
वीडयो चेनल, भीलवाड़ा समाचार,  सभी समाचारों के साथ नवीनतम जानकारियाँराष्ट्रीय खबरों के साथ जानकारियाँ, स्थानीय, धर्म, नवीनतम |

Most Popular