आपसी रंजिश में कलाल खेड़ी के मकान में विस्फोट के मामले में तीन आरोपियों को किया गिरफ्तार

किशन खटीक

रायपुर: महिला के मकान में विस्फोटक सामग्री लगाकर मकान को उड़ाने के मामले में रायपुर पुलिस ने 3 आरोपियों को गिरफ्तार किया, गंगापुर पुलिस उपाधीक्षक गोपीचंद मीणा ने बताया कि 30 जून को संतु देवी योगी ने रिपोर्ट दी, कि उसका टीनसुधा कमरा कलाल खेड़ी में बना हुआ था, जिसको 25 जून की रात कैलाश नाथ देवानाथ पारस गुर्जर देव नाथ रघुनाथ ने विस्फोटक लगाकर उड़ा दिया, पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच पड़ताल शुरू कि, जांच पड़ताल के दौरान मौके पर कोरोडेस्क वायर, डेटोनेटर के अवशेष बरामद किए गए, FSL की टीम ने सबूत जुटाए हैं जांच में विस्फोटक का प्रयोग करना पाया गया,
पुलिस अधीक्षक विकास शर्मा व अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक चंचल मिश्रा के निर्देश पर थाना स्तर पर टीम का गठन किया गया, जिसमें ASI इंद्र सिंह, ASI मुंशी खां, हेड कॉन्स्टेबल श्याम सुंदर मुस्ताक मोहम्मद रतनलाल सांवरमल ने आरोपियों की तलाश शुरू की, आरोपी पारस गुर्जर को दस्तयाब कर पूछताछ की गई तो उसने बताया कि कैलाश नाथ द्वारा एक अन्य व्यक्ति सुखा पुत्र कालू भील ने विस्फोटक मंगवा कर 23 जून को इस घटना को अंजाम दिया, पुलिस ने आरोपी कैलाश नाथ योगी कलाल खेड़ी, पारस गुर्जर कलाल खेड़ी, सुखा भील खेमाणा को गिरफ्तार किया,
पुलिस उपाधीक्षक गोपीचंद मीणा ने बताया कि आरोपी कैलाश नाथ से पूछताछ की गई तो उसने बताया कि जहां संतु देवी ने कमरा बनाया वहां उसके पिता लहरु नाथ का कब्जा चल रहा था, पिछले 1 साल से खींचतान चल रही थी, संतु देवी व उसके परिवार ने वहां कमरा बना दिया
23 जून को प्रशासन की ओर से आसपास का कब्जा हटाया गया
लेकिन संतु देवी का कमरा नहीं हटाया, इससे आक्रोशित होकर हमने घटना को अंजाम दिया

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here