previous arrow
next arrow
Slider
Home भीलवाड़ा स्वर्गीय राष्ट्रपिता पूज्य महात्मा गांधी एवं स्वतंत्रता आन्दोलन के शहिदों का स्मरण...

स्वर्गीय राष्ट्रपिता पूज्य महात्मा गांधी एवं स्वतंत्रता आन्दोलन के शहिदों का स्मरण कर श्रद्धांजलि दी

भीलवाड़ा:- सेवा संघ बीगोद द्वारा आयोजित त्रिवेणसंगम स्थित गांधी स्मृति भवन मे सर्वोदय विचार गोष्ठी मे पूज्य राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के जीवन दर्शन पर प्रकाश डालकर वक्ताओं उनके बताये मार्ग पर चलने हेतु प्रेरित किया।कार्यक्रम की शुरुआत दीप प्रज्ज्वलित कर की गयी। नवजीवन विधालय के छात्रों ने गांधी जी का भजन शुरूआत मे गाया। कार्यक्रम की अध्यक्षता सेवासंघ के अध्यक्ष भंवर लाल जोशी ने की। महात्मा गांधी के 74 वें स्मृति दिवस की श्रद्धांजलि सभा मे गांधी विचारक एवं प्रबुद्ध विचारक गांधी जीवन दर्शन समिति भीलवाडा़ के संयोजक अक्षय त्रिपाठी,सेवासंघ अध्यक्ष भंवरलाल जोशी, गांधी ग्राम संस्था के मुस्ताक खान, दिल्ली से ताहिर अली आदि आज श्रद्धांजलि एवं पुष्पांजलि कार्यक्रम मे सहभागी बने।
संस्था के महासचिव शिवप्रकाश भाटिया ने आगन्तुक अतिथियों के अभिनंदन की रस्म की। अध्यक्षीय उदबोधन मे भंवर लाल जोशी ने कहा कि 12 फरवरी 1948 को सेवासंघ के संस्थापक मनोहर सिंह महता, सेवा सदन के संस्थापक रूपलाल सोमाणी,आदि ने त्रिवेणसंगम मे स्वर्गीय महात्मा गांधी का अस्थीकलश प्रवाहित किया। तभी से यहां सर्वोदय मेला गांधी मैले के नाम से आयोजित होता आया है। महात्मा गांधी ने पूरे देश को एक सूत्र मे बांधने का काम किया। राजकीय बालिका उच्च माध्यमिक विद्यालय बीगोद के प्रधानाचार्य दिनेश वर्मा ने श्रृद्धाजली सभा मे कहा कि गांधी सहित्य हम पढ़ते है तो हमे अनुभव मिलता है। जीने की कला का दिशा बोध होता है। युवा पीढ़ी साहित्य दर्शन से दूर होती जा रही है। बड़े लक्ष्य के लिए, कठिन परिस्थितियों को पार करने के लिए महापुरुषों के जीवन पथ पर चलना जरुरी है। राम सिंह जोशी ने विचार व्यक्त करते हुए कहा कि उनकी कार्यशेली जन हितैषी थी। शराबबंदी को जन आंदोलन के रुप चलाने की आवश्यकता है। विचारक मुश्ताक खान ने कहा कि आज सब के सामनेअर्थ की प्रधानता है। लोग आधुनिकता की दौड़ मे लगे है। मानवता को पोषित करने वाले भाव जागृत करने की आवश्यकता है। भंवर लाल त्रिपाठी ने कहा गांधी समाज सुधारक थे। उनका दृष्टिकोण वाद चलाने का नहीं था। समाज मे व्याप्त विकृतियों को मिटाना उनका उद्देश्य रहा। उन्होने कहा इस अवसर पर सामाजिक उत्थान का प्र ले। तब ही सच्ची श्रद्धांजलि होगी। अक्षय त्रिपाठी ने कहा कि गांधी जी की दो वर्षीय 150 जयन्ति मुख्य मंत्री अशोक गहलोत ने चला रखी है। त्रिपाठी ने कहा कि आज ही के दिन आर्यसमाज के संस्थापक दयानंद सरस्वती ने कुरितियां मिटाने के लिए संघर्ष किया। उनके जन्मदिन पर स्मरण कर श्रद्धांजलि व्यक्त की। मुश्ताक खान ने त्रिवेणसंगम पर संस्थान द्वारा गतिविधियां संचालन के लिए सुझाव दिए। दिल्ली से आए ताहिर अली ने भी विचार व्यक्त किए। महेन्द्र बाबेल ने कहा कि हिन्द की फिंजा खुशनुमा हो। सभी भारत वासी वतन के प्रति वफादार एवं कर्तव्यशील हो। गांधी जी की जिन्दगानी मानवता को समर्पित रही। गांधी आपकी सेवाओं का कैसे करू गुणगान ।कहा कि गांधी के पथ चिन्हों पर चलकर अमृत पीओ। सुबहराय ने विडियो काल से संदेश दिया। कार्यक्रम का सफल संचालन शिवकुमार त्रिपाठी ने किया ओर कहा कि विदेशो मे राष्ट्रपिता महात्मा गांधी को श्रद्धा से मानते है। उनके पथ चिन्हों पर चलने की आवश्यकता है।
इस अवसर पर मास्क वितरण किए गए एवं अतिथियों को गांधी दर्शन समिति भीलवाडा़ संयोजक अक्षय त्रिपाठी द्वारा तस्वीर भेट की गयी। कोरोना गाइड लाईन के साथ श्रृद्धाजली कार्यक्रम हुआ।
आभार कार्यवाहक अध्यक्ष ओम प्रकाश जोशी ने किया। आगामी कार्य योजनाओं पर मंथन किया गया। कार्यक्रम मे पूर्व संरपच तुलसीकाला, भैरूलाल बापना। कय्युमलुहार लुहार, सुरेश लोढा़, दीपक जैन, प्रमोद नागोरी ,पवन बावरी,जगदीश मुन्दडा आदि उपस्थित थे। ,

हमारें अन्य चेनल देखने के लिए निचे दिए वाक्यों पर क्लिक करे
वीडयो चेनल, भीलवाड़ा समाचार,  सभी समाचारों के साथ नवीनतम जानकारियाँराष्ट्रीय खबरों के साथ जानकारियाँ, स्थानीय, धर्म, नवीनतम |

Most Popular