previous arrow
next arrow
Slider
Home न्यूज़ राष्ट्रीय Bihar Assembly Elections: सियासी रण में अब आरक्षण का दांव, नीतीश कुमार...

Bihar Assembly Elections: सियासी रण में अब आरक्षण का दांव, नीतीश कुमार ने कहा- आबादी के हिसाब से मिलना चाहिए रिजर्वेशन

पटना: बिहार विधानसभा चुनाव के दूसरे चरण के लिए मतदान से पहले सीएम नीतीश कुमार ने आरक्षण का दांव खेला है. मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने गुरुवार को वाल्मीकि नगर में चुनावी रैली को संबोधित करते हुए आरक्षण को लेकर बड़ा बयान दिया है. उन्होंने कहा कि आबादी के हिसाब से आरक्षण की हिमायत की है. सीएम नीतीश कुमार ने कहा कि उनकी हमेशा से यही राय रही है और वो इस पर कायम है कि जातियों को उनकी आबादी के हिसाब से ही आरक्षण मिलना चाहिए.

जनगणना हम लोगों के हाथ में नहीं: 
सीएम नीतीश कुमार ने आरक्षण जैसे गंभीर मुद्दे पर कहा कि जनगणना हम लोगों के हाथ में नहीं है. लेकिन हम चाहेंगे कि जितनी लोगों की आबादी है, उस हिसाब से लोगों को आरक्षण मिले. इसमें हमारी कोई दो राय नहीं है.

पार्टियां वोटों के लिए जी-तोड़ कोशिश कर रही: 
गौरतलब है कि बिहार विधानसभा चुनाव के पहले चरण का चुनाव 28 अक्टूबर को खत्म हो गया. दूसरे चरण का चुनाव तीन नवंबर को होना है जिसमें 17 जिलों की 94 सीटों पर चुनाव होंगे. इसी को लेकर पार्टियां वोटों के लिए जी-तोड़ कोशिश कर रही हैं.

वाल्मीकि नगर में थारू जाति के काफी वोट:
बता दें कि असल में वाल्मीकि नगर में थारू जाति के काफी वोट हैं और ये जाति जनजाति में शुमार करने की मांग उठा रही है. इसी का समर्थन करते हुए नीतीश ने कहा कि थारू को आरक्षण का फायदा दिलाने के लिए वो सालों से कोशिश कर रहे हैं. तब से जब से वो अटल सरकार में रेल मंत्री थे. असल में यहां प्रचार करने के लिए पहुंचे नीतीश के सामने थारू जाति  ने पुरजोर तरीके से आरक्षण का मसला रखा था.

Most Popular

एमएसपी पर कोई खतरा नहीं :कृषि मंत्री तोमर बैठक बाद बोले

नई दिल्ली, 5 दिसंबर (आईएएनएस)| किसान नेताओं के साथ शनिवार को यहां विज्ञान भवन में हुई पांचवें दौर की बैठक में कृषि और किसान...

जब होठों पर अंगुली रख आधे घंटे मौन रहे किसान नेता, जानिए 5 घंटे मीटिंग में क्या-क्या हुआ !

नई दिल्ली, 5 दिसंबर (आईएएनएस)| विज्ञान भवन में शनिवार को किसान नेताओं के साथ मोदी सरकार के तीन मंत्रियों की हुई पांचवें राउंड की...

रोजाना जोखिम झेल रहे किराना दुकान मालिकों के लिए जरूरी है बीमा कवर, चेकबुक

नई दिल्ली। उपभोक्ता सामग्री के ढेर, किसी भी सामान को निकालने के लिए दूसरे सामान को धकियाना, खाद्य पदार्थों की बोरियां, माउथ फ्रेशनर्स और...

गाजीपुर सीमा पर लोक गीत किसानों को कर रहे प्रेरित,किसान नेता राकेश टिकैत बोले नए साल पर भी किसान यहीं रहेंगे

नई दिल्ली। गाज़ीपुर बॉर्डर पर किसान नेता राकेश टिकैत ने कहा की सरकार बिल वापिस लेने के लिए तैयार नहीं है और किसान दिल्ली...
We would like to show you notifications for the latest news and updates.
Dismiss
Allow Notifications