previous arrow
next arrow
Slider
Home न्यूज़ अन्तराष्ट्रीय चीन को तनातनी के बीच अमेरिका ​ने ​भारत को दिया खतरनाक हथियार...

चीन को तनातनी के बीच अमेरिका ​ने ​भारत को दिया खतरनाक हथियार सीमा पर होगी तैनात

चीन को तनातनी के बीच अमेरिका ​ने ​भारत को दिया खतरनाक हथियार सीमा पर होगी तैनात

(शीतल निर्भीक ब्यूरो)
नई दिल्ली।​भारतीय सेना में दूसरी सबसे बड़ी रैंक के अधिकारी वाइस चीफ एसके सैनी अन्य आपातकालीन खरीद और निर्माण क्षमताओं पर चर्चा करने के लिए 17 अक्टूबर से तीन दिन की अमेरिकी यात्रा पर ​भी गए थे।​
अमेरिका के साथ 2016 में ​हुए लॉजिस्टिक एक्सचेंज मेमोरेंडम ऑफ एग्रीमेंट (​​लेमोआ) ​का इस्तेमाल ​पहली बार ​सैनिकों की ​’कोल्ड वार किट’ ​लेने के लिए किया गया है। ​

इस समझौते से दोनों देशों के सशस्त्र बलों के बीच युद्धपोतों, विमानों के लिए ईंधन, स्पेयर पार्ट्स, लॉजिस्टिक सपोर्ट, सप्लाई और अन्य सेवाओं की सुविधा मिलती है। इनमें कपड़े, भोजन, स्पेयर पार्ट्स, अन्य आवश्यक वस्तुओं के बीच चिकित्सा सेवाएं शामिल हैं। ​

​भारत ​के साथ द्विपक्षीय समझौते के तहत सहायता के लिए तत्काल अनुरोध किए जाने के बाद ​​विस्तारित ठंडे मौसम वस्त्र प्रणाली (ईसीडब्ल्यूसीएस) के 11​ हजार ​’कोल्ड वार किट’ ​अमेरिका ने दे दी है। ये सेट अमेरिकी सेना के स्टॉकहोल्डिंग से आए हैं और आगे के क्षेत्रों में भेज दिए गए हैं, जहां ​उच्च ऊंचाई पर सैनिक तैनात हैं​।

चीन के साथ तनाव जारी रहने के कारण सर्दियों ​में भी सीमा पर जमे रहने की संभावना ​के चलते​ ​सीमा की अग्रिम चौकियों पर तैनात सैनिकों की तत्काल आवश्यकताओं को पूरा करने के लिए यूरोपीय देशों से भी आपातकालीन खरीद की गई है। भारत ने तत्काल आधार पर सर्दियों के कपड़े और उच्च ऊंचाई वा​ली युद्धक किट खरीद​ने की मांग पिछले माह अमेरिका को भेजी थी।​

चीन के साथ सैन्य टकराव के बीच चरम सर्दियों में लद्दाख की 15 हजार फीट ऊंची बर्फीली पहाड़ियों पर तैनात सैनिकों के लिए अमेरिका ​ने भारत को 11 हजार ​’कोल्ड वार किट’ दी हैं​।​ ​​​​

भारत ने यह खरीदारी अमेरिका से 2016 में हुए लॉजिस्टिक एक्सचेंज मेमोरेंडम (लेमोआ) समझौते के तहत की है।​​ चीन से वार्ताओं के सात दौर बीतने के बाद भारत अब भी एलएसी पर लम्बी तैनाती नहीं चाहता लेकिन अगर ऐसी स्थिति बन रही है तो उसके लिए तैयारी भी पूरी कर ली है।

भारत अब तक मुख्य रूप से यूरोप या चीन से अपने रक्षा बलों के लिए उच्च-ऊंचाई वाली किट बनवाता था लेकिन इस बार चीन से ही टकराव के चलते ​’कोल्ड वार किट’ ​​अमेरिका से खरीदी गई है।

Most Popular

किसान आंदोलन को सुलझाने के लिए गृहमंत्री अमित शाह ने संभाली कमान

नई दिल्ली। पंजाब के किसानों के 'दिल्ली चलो' आंदोलन को सुलझाने के लिए मोदी सरकार की तरफ से खुद गृहमंत्री अमित शाह ने कमान...

हैदराबाद नगर निगम चुनाव प्रचार से पहले अमित शाह ने चारमीनार मंदिर में की पूजा अर्चना

हैदराबाद। केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने ग्रेटर हैदराबाद नगर निगम (जीएचएमसी) चुनाव के लिए भाजपा के प्रचार अभियान में हिस्सा लेने से पहले...

MP में नगरीय निकाय चुनाव में बसपा बढ़ा सकती है कांग्रेस की मुश्किलें

भोपाल। मध्यप्रदेश में भले ही अभी नगरीय निकायों के चुनावों की तारीखों का ऐलान न हुआ हो मगर राजनीतिक दलों ने तैयारियां शुरू कर...

पेट्रोल, डीजल के दाम में वृद्धि का सिलसिला जारी

नई दिल्ली। पेट्रोल और डीजल के दाम में रविवार को लगातार चौथे दिन वृद्धि का सिलसिला जारी रहा। अंतर्राष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल के...
We would like to show you notifications for the latest news and updates.
Dismiss
Allow Notifications