Homeराज्यउत्तर प्रदेशसिनेमा मे एक्टिंग एक विशेष कला है

सिनेमा मे एक्टिंग एक विशेष कला है

cinema acting special art

सिनेमा निर्माताओ को अपनी व्यावसायिक और साहित्यिक मानको के साथ मिशिरित करने की कला में माहिर होना चाहिए

समर्थ कुमार सक्सेना
लखनऊ। स्मार्ट हलचल/थिएटर एवं फिल्म वेलफेयर एसोसिएशन के द्वारा उत्तर प्रदेश के नये लड़के, लड़कियों जिनका ऑडिशन के माध्यम से चयन किया गया था उनको फिल्म डायरेक्टर आशीष कुमार कश्यप के द्वारा सिनेमाटिक चालेंजेस सॉल्यूशन एवं प्री प्रोडक्शन वर्कशाप का आयोजन कर आधुनिक सिनेमा निर्मांण पर एक व्याख्यान फिल्म अकादमी दिलीपपुर टावर, ए.बी ब्लॉक तृतीय तल सप्रू मार्ग, हज़रतगंज लखनऊ मे किया गयाI
फिल्म डायरेक्टर आशीष कुमार कश्यप के द्वारा बताया गया की सिनेमा मे एक्टिंग एक विशेष कला है जिसमे कलाकार अपने भूमिका को साकार रूप में प्रस्तुत करता हैI
आधुनिक सिनेमा मे एक्टिंग न केवल शब्दो और भाषा के माध्यम से होती हैं बल्कि छवियों,अनुभूति और अंतरंग भावनाओ के माध्यम से भी होती हैंI
नव अंशिका फाउन्डेशन की अध्यक्ष एव समाजसेवी नीशू त्यागी व एसोसिएशन के सचिव दबीर सिद्दीकी ने बताया कि एक शक्तिशाली और विचार कहानी आधुनिक सिनेमा का आधार हैI सिनेमा निर्माताओ को अपनी व्यावसायिक और साहित्यिक मानको के साथ मिशिरित करने की कला में माहिर होना चाहिएI इसमे नव अंशिका फाउन्डेशन की अध्यक्ष एव समाजसेवी नीशू त्यागी, काष्टींग डायरेक्टर आदित्य अग्रवाल, डांस कोरियोग्राफर आदित्य वर्मा, मैनेजर नैतिक व एसोसिएशन के सचिव दबीर सिद्दीकी आदि लोगो ने भी अपना योगदान दियाI

RELATED ARTICLES