previous arrow
next arrow
Slider
Home न्यूज़ राजस्थान कांग्रेस की चार विधानसभा उपचुनाव रणनीति और किसान सम्मेलन को लेकर बैठक

कांग्रेस की चार विधानसभा उपचुनाव रणनीति और किसान सम्मेलन को लेकर बैठक

जयपुर: चार उपचुनाव को लेकर कांग्रेस पार्टी में रणनीति बनाने का काम जारी है. आज सहकारिता मंत्री उदयलाल आंजना के सरकारी आवास पर महत्वपूर्ण बैठक हुई. 27 फरवरी को होने वाले किसान सम्मेलन को लेकर रणनीति तैयार की गई. 27 को दो किसान सम्मेलन होंगे. पहला श्री डूंगरगढ़ विधानसभा क्षेत्र के पिलानियां की ढाणी में आयोजित किया जाएगा जो कि बीकानेर जिले में है ,दूसरा सम्मेलन उसी दिन चित्तौड़ के मातृकुंडिया में आयोजित होगा. आज हुई बैठक में प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा ,स्वास्थ्य मंत्री डॉ रघु शर्मा ,राजस्व मंत्री हरीश चौधरी, परिवहन मंत्री प्रताप सिंह खाचरियावास जनजाति कल्याण मंत्री अर्जुन बामणिया , विधायक महेंद्रजीत सिंह मालवीय ,रामलाल जाट,सुदर्शन सिंह रावत , कांग्रेस नेता धर्मेंद्र सिंह राठौड़,पूर्व विधायक सुरेंद्र सिह जाड़ावत, प्रकाश चौधरी , कांग्रेस नेता रामपाल शर्मा, पुष्पेंद्र भारद्वाज समेत प्रमुख नेता शामिल हुए.

कांग्रेस ने कस ली उप चुनाव की रणनीति बनाने को लेकर कमर:
चुनाव आचार संहिता लगने से पहले कांग्रेस ने चार विधानसभा उप चुनाव की रणनीति बनाने को लेकर कमर कस ली है, जिताऊ उम्मीदवार को लेकर कांग्रेस का मंथन जारी है. साथ ही किसान सम्मेलन भी ऐसे इलाकों में किए जा रहे हैं. जहां आसपास विधानसभा उपचुनाव की सरगर्मियां है. आज सहकारिता मंत्री उदयलाल आंजना के आवास पर सहाड़ा, वल्लभनगर और राजसमंद के कांग्रेसी नेताओं और जनप्रतिनिधियों की अहम बैठक हुई. इसके बाद पीसीसी चीफ डोटासरा ने मीडिया से बातचीत में किसान सम्मेलनों की जानकारी दी. उन्होंने कहा कि इन सम्मेलनों में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत, प्रभारी अजय माकन समेत प्रमुख नेता भाग लेंगे. कांग्रेस पार्टी किसान आंदोलन के समर्थन में खड़ी है.

आयोजन में आचार संहिता कहीं पर भी आड़े नहीं आए:

प्रदेश कांग्रेस कमेटी ने किसान सम्मेलनओं का चयन भी बड़ी सोची समझी रणनीति के तहत किया है, जिससे इनके आयोजन में आचार संहिता कहीं पर भी आड़े नहीं आए. 27 को आयोजित किए जाने वाले सम्मेलन चुनावी क्षेत्रों के पास में है, लेकिन चुनावी क्षेत्रों के अंदर नहीं है. लेकिन मकसद साफ है यहां से चुनावी संदेश जाए. दिल्ली में होने के कारण आज की बैठक में बेगू विधायक राजेंद्र सिंह बिधूड़ी नहीं पहुंच पाए. वहीं भीलवाड़ा के नेता रामलाल जाट और रामपाल शर्मा देरी से पहुंचे. पीसीसी चीफ डोटासरा ने कहा कि जीतने वाले को ही टिकट दिया जाएगा. किसान सम्मेलन और उम्मीदवार चयन दोनों की रणनीति का काम कांग्रेस में साथ साथ जारी है.

Most Popular