previous arrow
next arrow
Slider
Home न्यूज़ राष्ट्रीय कोरोना काल: दिवाली नजदीक, फिर भी कनॉट प्लेस मार्केट बेरौनक

कोरोना काल: दिवाली नजदीक, फिर भी कनॉट प्लेस मार्केट बेरौनक

नई दिल्ली। कोरोना महामारी के दौरान आगामी त्योहारों के चलते लोग घर से बाहर तो निकलने लगे हैं, लेकिन इसका असर दिल्ली स्थित कनॉट प्लेस पर उतना नजर नहीं आ रहा है। मार्केट में फुटफॉल तो बढ़ना शुरू हुआ है, मगर व्यापार में करीब 40 फीसदी की गिरावट है। दिवाली को अब कुछ ही दिन शेष हैं, ऐसे में मार्केट में त्योहारों के दौरान होने वाले व्यापार की रौनक नहीं देखी जा रही है।

दरअसल, इस मार्केट में अधिकतर सभी दुकानें ब्रांडेड कपड़ों और अन्य एसेसरीज की हैं। यहां अक्सर लोग अपने परिवार और दोस्तों के साथ घूमने आते हैं। इस मार्केट में विदेशी नागरिकों का आना-जाना भी काफी लगा रहता है, लेकिन कोविड-19 के बाद से इस मार्केट की स्थिति में बदलाव आया है।

अनलॉक के बाद से मार्केट में शनिवार और रविवार को अच्छी भीड़ देखी जा रही है। लेकिन अन्य दिनों में लोग आते तो हैं, लेकिन उतनी चहल-पहल नजर नहीं आती। मार्केट की एक कपड़ों की दुकान के मैनेजर सोनू सिंह ने आईएएनएस को बताया, “स्टोर में 50 फीसदी फुटफॉल है और उसमें से 80 फीसदी लोग शॉपिंग करके जा रहे हैं।”

एक अन्य दुकानदार सचिन कुमार ने आईएएनएस को बताया, “धीरे-धीरे लोग आना शुरू तो कर रहे हैं, लेकिन वीकेंड्स पर थोड़ा व्यापार जायद रहता है। फिलहाल 50 फीसदी लोग शॉपिंग करने आते हैं। लोगों में अभी भी कोरोना का डर बना हुआ है।”

उन्होंने कहा, “हालांकि मार्केट के अन्य दुकानदारों की मानें तो बाजार पूरी तरह ठप पड़ा हुआ है। लोग आ तो रहे हैं, लेकिन घूमने ज्यादा आ रहे हैं। शॉपिंग करने में लोग उतनी दिलचस्पी नहीं दिखा रहे हैं। हालांकि दिवाली के त्योहार को बस 20 दिन बचे हैं, लेकिन हम आज भी ग्राहकों का इंतजार कर रहे हैं।”

न्यू दिल्ली ट्रेड एसोसिएशन के जनरल सेक्र टरी विक्रम ने आईएएनएस को बताया, “त्योहार नजदीक है, लेकिन व्यापार अभी उस लाइन पर नहीं पहुंचा है जो होना चाहिए। व्यापार में अभी भी 30 से 40 फीसदी गिरावट है, क्योंकि लोगों ने अपनी लाइफ स्टाइल चेंज कर ली है।”

उन्होंने बताया, “वर्क फ्रॉम होम होने की वजह से फॉर्मल कपड़ों की डिमांड बहुत कम हो गई है। तो अब हमें भी उसी तरह से अपने व्यापार में बदलाव करना पड़ेगा। कुछ दुकानों में पहले कुछ और व्यापार होता था, लेकिन अब ज्यादातर ने सेनिटाइजर की बिक्री शुरू कर दी है।”

इसी एसोसिएशन के एक्सिक्यूटिव मेम्बर अमित गुप्ता ने आईएएनएस को बताया, “फेस्टिवल सीजन इस बार फीका जाएगा, क्योंकि लोग कोविड की वजह से बहुत डरे हुए हैं। बाजार 30 फीसदी डाउन है। त्योहारों में जो व्यापार होता है वो बात नहीं है। लेकिन जो उम्मीद है त्योहारों के वक्त व्यापार की वो अभी नहीं आ पा रही है।”

दरअसल, कोविड-19 की वजह से हर किसी की आर्थिक स्थिति गड़बड़ाई है, लिहाजा कोई महंगे कपड़े और जूते नहीं खरीद रहा है। ऐसे में यहां मौजूद दुकानदारों के व्यापार पर सीधा असर पड़ रहा है।

फेस्टिवल सीजन के दौरान नवरात्रों, दुर्गा पूजा पर अन्य राज्यों के लोग दिल्ली में त्योहार मनाने आते हैं। जो इस बार हर साल की तरह नहीं देखा जा रहा।

Most Popular

मध्य रात्रि बाद क्षेत्र में हुई बूंदाबांदी बड़ी ठंडक

बेरा l भेरू लाल गुर्जर क्षेत्र रायला रुपाहेली खुर्द गागलास कहीं गांव में मध्यरात्रि बाद आसमान में बादलों की गर्जना व बिजलियां के चमक आना...

बनेड़ा पंचायत समिति व जिला परिषद के मतदान 27 नवंबर को मतदान केंद्र पर पहुंच कर टीम ने लिया जायजा

बेरा l भैरूलाल गुर्जर बनेड़ा उपखंड क्षेत्र बालेसरिया बेरा रूपाहेली खुर्द बालसरिया मैं मतदान बूथ पर जायजा लेने जनरल मजिस्ट्रेट एवं पुलिस कर्मचारी पहुंच कर....

स्वास्थय विभाग आया हरकत में राधे कचौरी पर की कार्यवाही पुरानी मिठाइयों को किया नष्ट लिए सैम्पल

भीलवाड़ा। स्मार्ट हलचल ने गुरुवार सुबह एक खबर का प्रकाशन किया था, जिसमे सुभाषनगर थाना क्षेत्र के अंतर्गत नगर विकास न्यास के निकट राधे...

वरिष्ठ शिक्षिका ने अपनी स्वर्गिय सास की स्मृति में करवाया विद्यालय में सरस्वती मंदिर का निर्माण

जे पी शर्मा बनेड़ा- पंचायत समिति क्षेत्र के रघुनाथपुरा गांव स्थित राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय में वरिष्ठ अध्यापिका आशा पत्नी जगदीश लाल सोमानी ने अपनी...