जिला प्रशासन सख्त : शहर में चलाया विशेष अभियान लापरवाह लोगों से वसूला जुर्माना , जिलेवासी सरकार द्वारा जारी प्रोटोकॉल की पालना में करें सहयोग-डीएम।

जिला प्रशासन सख्त : शहर में चलाया विशेष अभियान लापरवाह लोगों से वसूला जुर्माना , जिलेवासी सरकार द्वारा जारी प्रोटोकॉल की पालना में करें सहयोग-डीएम।

धौलपुर राजस्थान । राज्य सरकार ने प्रदेश में कोरोना वायरस संक्रमण की गंभीर स्थिति को नियंत्रित करने के लिए आगामी 15 दिन के लिए सख्त कदम उठाने का निर्णय लिया है। कोविड-19 की दूसरी लहर से लोगों के जीवन की रक्षा करने के ध्येय की प्राप्ति के लिए जिला प्रशासन राज्य सरकार के आदेशानुसार संक्रमण को अधिक फैलने से रोकने के लिए हरसंभव कड़ा कदम उठाएगा।
जिला कलक्टर राकेश कुमार जायसवाल ने कहा कि आमजन के संक्रमण के प्रति लापरवाह हो जाने के कारण ही कोविड-19 की दूसरी लहर तेज गति के साथ आई है। यदि हम सब मास्क पहनने, उचित दूरी और बार-बार हाथ धोने के हैल्थ प्रोटोकॉल की पालना अनिवार्य रूप से नहीं करेंगे, तो कोरोना वायरस का संक्रमण भयावह रूप ले लेगा। उन्होंने कहा कि जिले में कोरोना के खिलाफ जंग को प्रभावी तरीके से लड़ने के लिए जिले वासियों को जिला प्रशासन का सहयोग करना होगा। साथ ही,उन्होंने टीकाकरण कराने ,जांच कराने के लिए भी आगे आने एवं जनजागरूकता की अपील की । जिले में चालाया विशेष जनजागरूकता सख्ती अभियान- जिला क्लक्टर ने विशेष जनजागरूकता अभियान चालाया जिससे आमजन सख्ती से कोरोना गाइडलाईन की पालना करे। जिला कलेक्ट्रेट परिसर से गुलाब बाग होते हुए सन्तर रोड ,तोपतिरहा,लाल बाजार,हनुमान तिराहा,गड़रपुरा मौहल्ला होते हुते हुए आरएसी लाईन के पास से होते हुए ओंडेला रोड़ तक मास्क पहनने के लिए लोगों में मानसिक रूप से व मनोवैज्ञानिक रूप से मास्क पहनने की अनिवार्यता के लिए सख्ती बरतने का संदेश दिया। बिना मास्क लगाए सरकारी नियमों से लापरवाह करने वाले लोगों से वसूला जुर्माना- उन्होंने बताया कि जिले में विशेष सख्ती से मास्क पहनने और वैक्सीनेशन व कोरोना जांच हेतु जनजागरूकता अभियान चलाया गया । धौलपुर शहर में सन्तर रोड स्थित 16 लोगों व दुकानदारों से एसओपी की पालना नहीं करने के कारण 5 हजार 800 रुपये का जुर्माना वसूला गया। जिनमें सन्तररोड स्थित अनुराग मोबाइल सेंटर से दुकान के सामने आवश्यकता से अधिक भीड़भाड़ व सामान रखा हुआ पाया गया जिस पर 500 रूपये का जुर्माना वसूला। स्वेता जनरल स्टोर तोप तिराहा से जुर्माना वसूला गया। उन्होंने कोविड-19 के सक्रंमण तथा वैक्सीनेशन की स्थिति की अधिकारियों और चिकित्सकों के साथ समीक्षा कर आवश्यक निर्देश दिये । कोरोना प्रबंधन के लिए भावी रणनीति तैयार कर मास्क लगाने और जनजागरूकता कैंपेन चलाने की बात कही। राज्य सहित जिले में बढ़े कोरोना के मामले – उन्होंने कहा कि जिले में विगत 5 दिन में कोविड पोजीटिव मरीजों का आंकड़ा बढ़ा है। राज्य भी में संक्रमण की गंभीरता आंकडे से समझी जा सकती है कि कुछ सप्ताह पहले प्रदेश में सक्रंमण के दोगुने होने की दर (डब्लिंग रेट) वर्तमान में 243 दिन पर आ गई है। उन्होंने कहा कि इस भयावह स्थिति को विस्फोटक होने से रोकने के लिए राज्य सरकार के आदेशानुसार जिला प्रशासन पूरी सख्ती बरतते हुए लोगों से हैल्थ प्रोटोकॉल की पालना करवाएगा। उन्होंने कहा कि लोगों को कोरोना संक्रमण की गंभीरता को समझकर अपने व्यवहार में बदलाव लाएं ।
प्रशासन सख्त कदम अपनाएगा- राज्य सरकार के आदेशानुसार पुलिस तथा स्वायत्त शासन के अधिकारियों को निर्देश दिए कि वे पूर्व में जारी की गए दिशा-निर्देशों के अनुपालना करते हुए बाजारों में मास्क तथा उचित दूरी के नियम की पालना नहीं होने पर संबंधित दुकान अथवा व्यावसायिक प्रतिष्ठान को 72 घंटे के लिए सील करने की सख्त कार्यवाही करें। इसी के चलते जिला कलक्टर ने कोविड संक्रमण की रोकथाम हेतु बाजार में लापरवाही से बिना मास्क घूमने वाले लोगों और दुकानदारों पर कड़ा रुख अपनाते हुए जुर्माना वसूला। टीकाकरण व जांच अभियान में आई तेजी- उन्होंने सीएमएचओ को कोविड टीकाकरण की गति को भी बढ़ाने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि प्रत्येक जिले वासी को 45 वर्ष से अधिक उम्र के सभी लोगों का टीकाकरण करवाने की जिम्मेदारी लेनी चाहिए और एक-दूसरे को इसके लिए प्रेरित करना चाहिए। टीकाकरण की शुरूआत से ही राजस्थान इस अभियान में देश का अग्रणी राज्य रहा है। उन्होंने कहा कि जिले में वैक्सीनेशन में गति पकड़ी है साथ ही जांचों में बढ़ोतरी हुई है। चिकित्सा विभाग ने इसके लिए पूरी तैयारी कर रखी है कि टीके के लिए पात्र हर व्यक्ति को कोविड टीका लगाया जाए, ताकि कोरोना का संक्रमण होने पर भी शरीर पर इसके दुष्प्रभावों को कम किया जा सके। वैक्सीनेशन हेतु आमजन से की अपील- उन्होंने …