मालासेरी जन्म स्थली पर गेर नृत्य की धूम, ढोल की थाप और घुंघरू की झंकार पर थिरके हजारो कदम

मालासेरी जन्म स्थली पर गेर नृत्य की धूम, ढोल की थाप और घुंघरू की झंकार पर थिरके हजारो कदम

रूप लाल प्रजापत

आसींद क्षेत्र के अंतरराष्ट्रीय तीर्थ स्थल भगवान श्री देवनारायण की जन्म भूमि वह माता साडू की अखंड तपोभूमि मालासेरी डूंगरी के दरबार, लोक वाद्य यंत्रों की अनुगूंज, ढोल की थाप पर पारम्परिक वेशभूषा में सजेधजे बुजुर्ग ,युवक-युवतियों की लयबद्ध कदमताल। यह नजारा भगवान श्री देवनारायण की जन्म भूमि मालासेरी डूंगरी के परिसर में सोमवार को दिखा, जहां आयोजित पारम्परिक गेर नृत्य में बड़ी संख्या में लोगों ने सहभागिता निभाई। पुजारी हेमराज पोसवाल और मंदिर समिति द्वारा सभी का दुपट्टा व चालीसा भेटकर स्वागत किया और पुजारी हेमराज पोसवाल ने बताया कि देवनारायण भगवान के बारे में और बगड़ावतो के बारे में बताएं ढाई सौ वर्ष पूर्व में राज किया और सर्वे समाज के लोगों से एक अपील की कोई भी एक चीज छोड़ने का संकल्प दिलाया और आने वाली भादवी छठ व माई सातम पर हर घर से एक दीपक लाने का संकल्प दिलाया ओर केयर के बारे में बताया यह पारंपरिक देखते हैं जिसमें विशेष आगी बागी कुर्ता पहनते हैं मंदिर परिसर में मंदिर समिति के तत्वावधान में आयोजित गेर नृत्य में फतेहपुरा, बरसनी, कोली खेड़ा, दोला का खेड़ा, दुल्हेपुरा, जोधडास, कालियास, भोरा जी का खेड़ा, जालमपुरा, मोडी मंगरी, रघुनाथगढ़ ,दातरा, शंभूगढ़, मोडी खेड़ा, गणेशपुरा ,रायरा, हताण, जबरकिया, जेतपुरा, धोली ,सहित आसपास के आदि गांवों से हजारों की संख्या में लोगों ने शिरकत की। रंग-बिरंगे परिधानों में सजे सर्व समाज के देवभक्तो ने डांडिये की खनक, घुंघरू की छनक और ढोल की थाप से जुगलबंदी कर गेर नृत्य शुरू किया तो वहां उपस्थित लोगों के कदम ठहर से गए। लोग एकटक गेरियों को देखने का लोभ संवरण नहीं कर पाए। सुबह 10:00 बजे से आरंभ गेर नृत्य शाम तक चलता रहा। विभिन्न गांवों से आए लोगो ने फागुनी गीतों की स्वर लहरियों से मन्दिर परिसर को होलीमय बना दिया। कार्यक्रम में समिति के अध्यक्ष जयदेव चाड, उपाध्यक्ष महादेव गुर्जर, रामचंद्र पायलट साडू माता समिति के अध्यक्ष मेवाराम गुर्जर लादु लाल कागस , सरपंच शंभू लाल गुर्जर, पूर्व सरपच राजु कोली, सर्वे समाजों के गणमान्य पदाधिकारियों ने हिस्सा लिया।

हमारें अन्य चेनल देखने के लिए निचे दिए वाक्यों पर क्लिक करे
वीडयो चेनल, भीलवाड़ा समाचार,  सभी समाचारों के साथ नवीनतम जानकारियाँराष्ट्रीय खबरों के साथ जानकारियाँ, स्थानीय, धर्म, नवीनतम |