Jaisalmer: शादी की गूंज पर जिला प्रशासन अलर्ट, शादी में 31 से अधिक मेहमान बुलाए तो लगेगा जुर्माना

जैसलमेर: इस साल का सबसे बड़ा अबूझ सावा (Abuja Sawa) 14 मई को है. इस साल मई महीने के 30 में से 16 दिन शादियों (marriage) के लिए शुभ योग बन रहे हैं. यानी एकांतरे विवाह मुहूर्त के योग हैं. मई महीने का पहला सावा शनिवार से पहले दिन ही शुरू हो गया, लेकिन प्रशासन ने अब मेहमानों की संख्या 50 से घटाकर 31 कर दी हैं. खास बात यह है कि शादी में कौन कौन मेहमान आने वाले हैं. उसकी सूचना भी पहले जिला प्रशासन की ई-मेल के जरिए देनी होगी.

अगर 31 से एक मेहमान भी ज्यादा मिला तो बुलाने वाले वर-वधू पक्ष से एक लाख और जिनके यहां मेहमान गया हैं उससे भी एक लाख रुपए का जुर्माना वसूला जाएगा. यानी की तय संख्या से एक मेहमान भी अधिक मिला तो दो लाख रुपए तक का जुर्माना देना होगा और सजा भी हो सकती है. ऐसे में कई घर वाले शादी या तो टाल रहे हैं या फिर हालात से समझौता कर रहे हैं. जिले में शादियों की सीजन चल रही है. कोरोना की सख्ताई के बाद दर्जनों शादियां निरस्त कर दी. शादी में सिर्फ 31 लोगों की अनुमति है. ऐसे में मेहमानों व रिश्तेदारों को नहीं बुला सकते हैं. 8 मई के बाद में प्रस्तावित अधिकांश शादियां फिलहाल टाल दी गई है.

शादियों के इस सीजन में जिला प्रशासन अलर्ट दिखाई दे रहा:

इधर, कई लोगों ने शादी के कार्ड भी बांट दिए. एनवक्त पर लोगों को फोन पर कार्यक्रम में नहीं आने की बात कहनी पड़ रही है. इतना ही नहीं बारात आने व जाने को लेकर भी परेशानी हो रही है. शादियों के इस सीजन में जिला प्रशासन अलर्ट दिखाई दे रहा है.