previous arrow
next arrow
Slider
Home भीलवाड़ा करणवास में दिखा पैंथर, ग्रामीणों में दहशत

करणवास में दिखा पैंथर, ग्रामीणों में दहशत

विष्णु विवेक शर्मा

बागोर थाना क्षेत्र के ग्रामीण अंचल में खेतो की राह में पैंथर देखने की बात गांव में जिसने भी सुनी तो ग्रामीण दहशत भरे माहौल में आ गए । सूचना पर मांडल वन विभाग के वनपाल लालचंद खटीक के नेतृत्व में तीन लोगों की टीम करणवास पहुँची व पैंथर के पग मार्क देखे और मौका पर्चा बनाकर ग्रामीणों को सावचेत रहने की बात कही ।
करणवास के बबलू सुवालका व श्रवण कुमार पारीक ने बताया कि यहां गांव के अंदर से सारणों का खेड़ा जाने वाले खेतो के मार्ग में से होकर मंगलवार देर रात सारणों का खेड़ा निवासी राधेश्याम बलाई मोटरसाइकिल पर सवार होकर अपने गांव जा रहा था । इस दौरान इस मार्ग पर राधेश्याम को पैंथर दिखाई दिया । जिसको देखते ही राधेश्याम हक्काबक्का रह गया और त्वरित गति से मोटरसाइकिल को गुमाते हुए पुनः करणवास गांव में पहुँचा । जहां ग्रामीणों को अपनी आपबीती बताई । जिस पर ग्रामीणों ने वन विभाग की टीम को सूचना दी मगर रात अधिक होने से टीम बुधवार अल सुबह करणवास पहुँची । जिसने खेतो में पैंथर के पगमार्क देखे ।
मांडल वनपाल लाल चंद खटीक ने बताया कि ग्रामीणों ने दुरभाष पर मंगलवार देर रात गांव में शेर जैसा जंगली जानवर देखे जाने की जानकारी दी और वाट्सअप पर उसके पाँव के निशान भी भेजे जो कि 90 प्रतिशत तक पैंथर के ही थे जिनको वन विभाग के ही उच्चाधिकारियों को भेजकर जानकारी दी गई । मगर रात अधिक होने से ग्रामीणों को खेतों में पाणत करते वक्त अलाव जलाकर कार्य करने के लिए कहां साथ ही सभी ग्रामीणों को सावचेत रहने के लिए अपील की । और बुधवार प्रातः वनरक्षक चन्द्र प्रकाश माली और भागचंद बैरवा को साथ लेकर मौके पर करणवास पहुँचे । जहां
श्रवण कुमार पारीक, बद्री लाल पारीक, देवीलाल तेली, राधेश्याम बलाई, बद्री लाल तेली, बाबूलाल सुवालका सहित कई ग्रामीणों के सामने मौका देखकर पैंथर के पगमार्ग भी ढूंढे और मौका पर्चा भी बनाया । मौके पर खेत खलिहानों में डेढ़ दो घण्टे तक पैंथर को ढूंढा मगर वह कही नजर नही आया ।
इस दौरान प्रथमदृष्टया पैंथर देखने वाले राधेश्याम को मोबाइल से जरख, शेर, चिता इत्यादि के फोटो भी बताए मगर उसने उन जैसा जीव नही देखने की बात कही जब उसे अंत में पैंथर का फोटो मोबाइल से दिखाया तो तुरन्त हामी भरते हुए कहाँ की ऐसा ही जानवर कल रात देखा था । जिससे और वाट्सअप पर मिले फ़ोटो के पगमार्ग में दिखाई देने वाला जानवर पैंथर ही था इसकी पुष्टि की गई ।
और ग्रामीणों को खेत खलिहानों में कृषि कार्य करते सावधानी बरतने की अपील करते हुए पुनः दिखाई देने पर वन विभाग को सूचना देने के लिए भी आग्रह किया ताकि पिंजरा लगाकर पैंथर को पकड़कर ग्रामीणों को पैंथर के भय से मुक्त किया जा सके ।

हमारें अन्य चेनल देखने के लिए निचे दिए वाक्यों पर क्लिक करे
वीडयो चेनल, भीलवाड़ा समाचार,  सभी समाचारों के साथ नवीनतम जानकारियाँ , राष्ट्रीय खबरों के साथ जानकारियाँ, स्थानीय, धर्म, नवीनतम |

Most Popular