महात्मा गांधी अस्पताल में सोशल डिस्टेंसिंग कीउड़ी धज्जिया, स्थानीय डाक्टर और प्रशासन मोन

महात्मा गांधी अस्पताल में सोशल डिस्टेंसिंग कीउड़ी धज्जिया, स्थानीय डाक्टर और प्रशासन मोन

महेन्द्र नागौरी

भीलवाड़ा | पुनीत चपलोत) शहर में वीकेंड लोक डाऊन में छूट मिलने के बाद सरकारी अस्पताल में विभिन्न रोगों की जांच व ऑपरेशन थियेटर में चिकित्सको ने मरीजो के ऑपरेशन शुरू कर दिए जाने के चलते अस्पतालो में मरीजो कि भीड़ बढ़ना शुरू हो गई ।
मंगलवार को जिला मुख्यालय स्थित महात्मा गांधी अस्पताल में विभिन्न बीमारियों के रोगी चिकित्सको को दिखाने व रजिस्ट्रेशन के लिए पँहुची भीड़ ऐसी उमड़ी कि अस्पताल परिसर में सोशल डिस्टेंसिंग की पूरी तरह धज्जियां उड़ाई जा रही हैं. सरकारी अस्पताल में एक साथ सैकड़ों लोग अस्पताल में पहुचने से पूरी व्यवस्था ध्वस्त हो गई,सोशल डिस्टेंसिंग मजाक बनकर रह गया ।
जब कि जिला प्रशासन के अथक प्रयास से भीलवाड़ा में कोरोना संक्रमितों की संख्या पिछले काफी दिनों से जीरो पर पँहुच गई है ,
विपरीत इसके अस्पताल , बाजार, राजनीतिक पार्टीयो व सामाजिक संस्थाओं के धरने प्रदर्शन में इसी तरह भीड़ जमा होती रही तो फिर कोरोना संक्रमितों की संख्या में इजाफा होने से इनकार नही किया जा सकता है..?कोरोना अभी पूरी तरह खत्म हुआ नही लोग सोशलडिस्टेटेन्स को भुला बैठे या फ़िर इसकी पालना करना नही चाहते है ,वेसे काफी दिनों से जिला प्रशासन भी कोरोना गाईड लाइन की आमजन से सख्ती से पालना करवाने में सुस्त दिख रहा है, जिले व शहर में राजनीतिक पार्टियों के कद्दावर नेताओ क़े आने का सील सिला काफी दिनों से जारी है, इन नेताओं के काफिले में भारी भीड़ जुटने के चलते कोरोना गाइड लाइन की जमकर धज्जिया उड़ रही है..? इस की पालना करवाने को लेकर जिम्मेदार भी मोंन बने हुवे है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here