previous arrow
next arrow
Slider
Home भीलवाड़ा नोगांवा स्थित सांवलिया सेठ का मौनी अमावस्या पर हरिद्वार के गंगाजल से...

नोगांवा स्थित सांवलिया सेठ का मौनी अमावस्या पर हरिद्वार के गंगाजल से किया रुद्राभिषेक

परम पूज्य माधव गो विज्ञान अनुसंधान संस्थान नौगावां भीलवाड़ा में आयोजित हुआ मौनी अमावश्या पर विशेष कार्यक्रम ।

बागोर :- विष्णु विवेक शर्मा

कारोई क्षेत्र स्थित परम पूज्य माधव गो विज्ञान अनुसंधान संस्थान नौगावां, भीलवाड़ा में मौनी अमावश्या पर विशेष कार्यक्रम आयोजित हुआ । जिसमें हरिद्वार से लाये गए गंगाजल से ठाकुरजी का रुद्राभिषेक भी किया गया । और
म्हारे सिर पर साँवरिया को हाथ, कोई मारो कई करसी बोल के भजन पर भक्तजन झूम उठे ।
मौनी अमावश्या पर पदयात्रियों का जत्था भी पहुँचा साथ ही दिनभर श्रद्धालुओं का मेला भी लगा रहा।
मन्दिर के पुजारी प्रकाश शर्मा ने बताया कि “म्हारे सिर पर साँवरिया को हाथ, कोई मारो कई करसी, धर्म की इस नगरी में चाहूं जनम दुबारा, मिले सांवरिया सेठ हमारा” जैसे बोल के भजन प्रस्तुत करते गायक कलाकार व भक्तों के जयकारों के बीच भक्तिमय माहौल में पुष्प वर्षा के बीच ठाकुरजी सांवलिया सेठ जी की भक्ति में नाचते झूमते भक्तजनों के बीच मौनी अमावस्या पर नोगांवा स्थित माधव गौशाला परिषर में बने सांवलिया सेठ दरबार में हरिद्वार से लाये गए गंगाजल से विधिवत मंत्रोचार के साथ रुद्राभिषेक किया गया।। अमावस्या महोत्सव पर मंदिर में पूरे दिन मेले जैसा माहौल बना रहा। मन्दिर प्रबन्ध समिति के संयोजक गोविन्द प्रसाद सोडानी ने बताया की लोक डाउन के बाद दूसरी बार हुए भक्ति से सराबोर इस महोत्सव में हिन्दी व मेवाड़ी भजनों की प्रस्तुति पर श्रद्धालु अंत तक झूमते रहे। इससे पूर्व मां गंगा की स्तुति के बीच स्वस्तिवाचन करते हुए हरिद्वार से लाए गए गंगाजल से पंडित रमाकांत आचार्य, पंडित प्रेम शंकर शर्मा, पंडित प्रकाश शर्मा के सानिध्य में अजित सिंह सहित अन्य भक्तों द्वारा शान्तिपाठ से ठाकुर जी का अभिषेक भी किया गया। इसके पश्चात हुई महाआरती में भी श्रद्धालु पूरी श्रद्धा के साथ शामिल रहे। कार्यक्रम में पुर व गाडरमाला से पदयात्री भी बड़ी संख्या में शामिल हुए। भगवान सांवरिया सेठ का इंदौर के कारीगरों द्वारा बनी सामग्री से सुरेश प्रजापत के सहयोग से श्रृंगार किया गया। सभी भजन गायकों, गो सेवको व श्रद्धालुओ को तिलक लगा लच्छा, रोली बांधकर प्रसाद भी वितरित किया। मौनी अमावस्या पर भगवान सांवलिया सेठ का नयनाभिराम श्रृंगार भी श्रद्धालुओं के लिए मनमोहक रहा।
इस अवसर पर भंवरलाल, सुमित्रा दरगढ़, मदनलाल, अनिल शर्मा, मनीष जैन, महावीर जैथलिया, सत्यनारायण विश्नोई, रामचंद्र कुमावत, गोविंद प्रसाद सोडानी, संजू, आजाद तोतला, रामप्रसाद, दादा पुरुषोत्तम, मुकेश प्रचारक आदि का दिनभर में आयोजित हुए सभी कार्यक्रम में विशेष सहयोग रहा। मंदिर में 14 फरवरी को ठाकुर जी को सुबह 10:00 बजे विशेष भोग लगाया जाएगा साथ ही यहां रामायण पाठ भी आयोजित होगा। इससे पूर्व 7:00 बजे वहां रामायण पाठ के लिए पहुंचने वाले श्री रामधाम रामायण मंडल ट्रस्ट से जुड़े सभी लोगों का स्वागत अभिनंदन भी किया जाएगा।

Most Popular