previous arrow
next arrow
Slider
Home न्यूज़ राष्ट्रीय उत्तराखंड हिमखंड टूटने की घटनाः प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने मुख्यमंत्री रावत से...

उत्तराखंड हिमखंड टूटने की घटनाः प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने मुख्यमंत्री रावत से की बात, राहत कार्यों का लिया जायजा

नई दिल्लीः प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने रविवार को उत्तराखंड में हिमखंड के टूटने से से आई बाढ़ से उत्पन्न स्थिति की समीक्षा की और राज्य के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत से बात कर हरसंभव सहायता का आश्वासन दिया.

पीएम मोदी का ट्वीट, लिखा- देश सभी की सुरक्षा के लिए प्रार्थना कर रहाः

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने ट्वीट कर कहा कि उत्तराखंड में दुर्भाग्यपूर्ण स्थिति की लगातार निगरानी कर रहा हूं. भारत उत्तराखंड के साथ खड़ा है और देश सभी की सुरक्षा के लिए प्रार्थना कर रहा है. वरिष्ठ अधिकारियों से लगातार बात कर रहा हूं और एनडीआरएफ की तैनाती, बचाव और राहत कार्यों से संबंधित जानकारियां लगातार ले रहा हूं.

प्रधानमंत्री ने बचाव और राहत कार्य का जायजाः
प्रधानमंत्री कार्यालय ने एक अन्य ट्वीट में कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने उत्तराखंड की स्थिति की समीक्षा की. उन्होंने राज्य के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत और अन्य शीर्ष अधिकारियों से बात की. उन्होंने बचाव और राहत कार्य का जायजा लिया. अधिकारी प्रभावित लोगों को हरसंभव सहायता प्रदान करने के लिए काम कर रहे हैं.

हिमखंड के टूटने से बाढ़ः
गौरतलब है कि उत्तराखंड के चमोली जिले में ऋषिगंगा घाटी में रविवार को हिमखंड के टूटने से अलकनंदा और इसकी सहायक नदियों में अचानक आई विकराल बाढ़ के बाद गढ़वाल क्षेत्र में अलर्ट जारी कर दिया गया है.  ऋषिगंगा पर बनी एक बिजली परियोजना को इससे भारी नुकसान पहुंचा है. ऋषिगंगा पनबिजली परियोजना पर काम करने वाले कई मजदूरों के लापता होने की आशंका जताई जा रही है. अधिकारी ने बताया कि उत्तराखंड की धौली गंगा नदी में भयंकर बाढ़ आने के बाद से बिजली परियोजना में कार्यरत करीब 150 कर्मचारी लापता हैं. बाढ़ से चमोली जिले के निचले इलाकों में खतरा देखते हुए राज्य आपदा प्रतिवादन बल और जिला प्रशासन को सतर्क कर दिया गया है.वरिष्ठ अधिकारी मौके पर पहुंच गए हैं और लोगों से अपील की जा रही है कि वे गंगा नदी के किनारे पर न जाएं.

Most Popular