नरेगा में चल रहे गड़बड़ घोटाले के प्रति वार्ड पंचों में भारी रोष व्याप्त,मेट के खिलाफ कार्यवाही की मांग की

केकड़ी विधानसभा क्षेत्र के मेहरुकलॉ ग्राम में मनरेगा कार्य में भारी गड़बड़झाले पर गर्माया माहौल

दिलखुश मीणा

सावर!!!अजमेर संभाग की नवीन पंचायत समिति सावर की ग्राम पंचायत मेहरुकला में उपसरपंच सहित वार्ड पंचों द्वारा बुधवार को मनरेगा कार्य की जांच के दौरान भारी फर्जीवाड़ा उजागर होने पर मामला गर्मा गया । निरीक्षण के दौरान महिला मेट द्वारा उपसरपंच सहित वार्ड पंचों से बदतमीजी करते हुए झूठे आरोप लगाकर छेड़छाड़ की धमकी देने का मामला सामने आया है । ग्राम पंचायत मेहरुकला के उपसरपंच बजरंग लाल कुमावत ने बताया कि बुधवार को वार्ड मेम्बर सत्तार मंसूरी भाग चंद मांगी लाल कमलेश कुमार आशाराम मीणा साँवरा लाल बैरवा ममता गुर्जर सहित अन्य वार्ड पंचों के साथ ग्राम पंचायत के ग्राम बालापुरा में चरागाह में स्थित नई नाड़ी निर्माण कार्य का निरीक्षण किया । इस दौरान उक्त साइड पर 222 मनरेगा श्रमिकों का पंजीकरण बताया गया है । लेकिन साइड पर निरीक्षण के दौरान केवल 103 श्रमिक ही मौके पर उपस्थित पाए गए । मस्टरोल में 16 जुलाई से 21 जुलाई तक बिना हाजरी भरे खाली मस्टररोल पाया गया । मस्टरोल में गड़बड़झाले को लेकर उप सरपंच बजरंग लाल कुमावत सहित अन्य वार्ड पंचों ने साइड पर लगी महिला मेट ओम कंवर वर्मा पत्नी राम सिंह वर्मा से जानकारी चाही गई तो मेट ने मौजूद मनरेगा श्रमिको के सामने ही सभी से बदतमीजी पूर्वक बात करते हुए सभी को धमकाया की तुम्हारे खिलाफ मस्टररोल फाड़ने व छेड़छाड़ का आरोप लगाकर झूठे मुकदमे की कार्यवाही करवा दूंगी । मामले को लेकर उप सरपंच सहित वार्ड पंचों ने भारी रोष जताते हुए सावर पंचायत समिति के विकास अधिकारी मधुसूदन शर्मा सावर प्रधान आशा बागड़ी सहित मुख्य कार्यकारी अधिकारी जिला परिषद अजमेर व जिला कलेक्टर अजमेर सहित अन्य आला अधिकारियों व जन प्रतिनिधियों को भिजवाकर मनरेगा कार्य मे चल रहे गड़बड़झाले की उच्च स्तरीय जांच करवाकर आरोपी मेट को ब्लैकलिस्ट करके सख्त कार्यवाही की मांग की गई है ।शिकायत में बताया गया है कि मस्टररोल में आधे से अधिक नाम फर्जी चलाये जा रहे है । ग्राम पंचायत के ग्राम विकास अधिकारी व सहायक सेकेटरी की मिलीभगत के चलते मनरेगा में जबरदस्त भ्रष्टाचार किया जा रहा है । इस दौरान बताया गया है कि मस्टररोल में गुजरात मे ट्रक चलाने वाले ट्रक चालक हेमराज मीणा पुत्र जगदीश मीणा व भीलवाड़ा में रहने वाली सोनू कुमावत पत्नी नन्द किशोर कुमावत का भी नाम चलाया जा रहा है । उप सरपंच सहित वार्ड पंचों ने आरोप लगाया कि मेट मिलीभगत से जनता का शोषण कर रहे है । मस्टररोल में ग्राम पंचायत क्षेत्र से बाहर रहने वाले कई लोगो के फर्जी नाम चलाये जा रहे हैं । वही कई ऐसे छूट भैया लोग है जो मिलीभगत से तानाशाही करते हुए परिवार के लोगो के नाम चला रहे है । जिन्होंने मनरेगा कार्य मे जाना तो दूर की बात है । मनरेगा कार्य स्थल की साइड किधर है इसकी भी जानकारी नही है । मामले को लेकर गुरुवार को उप सरपंच सहित वार्ड पंच विकास अधिकारी सहित अन्य अधिकारियों से मिलकर कार्यवाही की रिपोर्ट लेंगे । उक्त मामले को लेकर जब ग्राम पंचायत के ग्राम विकास अधिकारी सतपाल चौधरी व सहायक सेकेटरी पुखराज से फोन पर सम्पर्क करने का प्रयास किया तो दोनों ने अपने फोन बंन्द कर लिये ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here