Homeसीकरगोटन में राजकीय महाविद्यालय खोलने को लेकर ग्रामीणों ने दिया मेडता विधायक...

गोटन में राजकीय महाविद्यालय खोलने को लेकर ग्रामीणों ने दिया मेडता विधायक को ज्ञापन

गोटन में राजकीय महाविद्यालय खोलने को लेकर ग्रामीणों ने दिया मेडता विधायक को ज्ञापन।

मेड़ता रोड
एजाज़ अहमद उस्मानी

गोटन- स्मार्ट हलचल/मेडता विधायक लक्ष्मणराम मेघवाल को गोटन दौरे पर आने पर ग्रामीणों ने उपतहसील स्तर पर कॉलेज नही होने से यहाँ के विद्यार्थियों को होने वाली समस्याओं के बारे में बताते हुए राजकीय महाविद्यालय खोलने की मांग की।

ज्ञात हो कि गोटन उपतहसील नागौर जिला मुख्यालय से नब्बे किलोमीटर दूर जोधपुर सीमा पर स्थित हैं यह उपतहसील ओधोगिक दृष्टि से अत्यधिक सम्पन हैं यहाँ ग्रे व व्हाईट सीमेंट उत्पादन के बड़े प्लांट सहित लगभग 250 छोटे बड़े चूने के भट्टे व अन्य उद्योग धंधे उत्पादन कार्य मे लगे हुए है।
उपतहसील की नजदीकी ढाणियों को मिला कर यहाँ की जनसंख्या लगभग चालीस हजार के आसपास है।

उपतहसील के अंदर आने वाले गांवो के लगभग पच्चीस उच्च माध्यमिक विद्यालयों से प्रतिवर्ष कला व विज्ञान संकाय के लगभग 1000 विद्यार्थियों को उच्च शिक्षा अध्ययन के लिए 40 से 100 किलोमीटर तक उपतहसील से बाहर जाना पड़ता हैं जो कि निर्धन वर्ग से आने वाले विद्यार्थियों के लिए सम्भव नही हैं जिसके कारण वह उच्च शिक्षा से वंचित रह जाते है।

राजस्थान सरकार द्वारा 10 जुलाई को वित्त वर्ष 2024 का विस्तृत बजट आ रहा हैं इस सम्बंध में ग्रामीणो की स्थानीय विधायक, सांसद, मुख्यमंत्री,उपमुख्यमंत्री से मांग की हैं कि उपतहसील के क्षेत्र में आने वाले विद्यार्थियों के हित को देखते हुए उच्च शिक्षा हेतु राजकीय महाविद्यालय इसी सत्र में प्रारम्भ किया जाये।

इस सम्बन्ध में गोटन सरपंच भंवरलाल जमेरिया, पंचायत समिति सदस्य भगवती देवी जमेरिया, डॉ अम्बेडकर मेमोरियल वेलफेयर सोसायटी,उपशाखा गोटन व राष्ट्रीय शोषित परिषद के अध्यक्ष अमराराम बेरवाल व अन्य पदाधिकारियों ने अपने-अपने लेटर पेड पर ग्रामीणों के साथ मिलकर मेडता विधायक को कॉलेज को लेकर मांग पत्र सौपा।

इस दौरान सद्गुरु उमाराम जी साहेब सेवा संस्थान,मांगलियावास के सरक्षक प्रभुराम बेरवाल, मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ सुखराम बेरवाल, बार कौंसिल मेडता अध्यक्ष रमेश चन्द्र परिहार, भामाशाह श्रवण कुमार जमेरिया जालाराम बेरवाल, रामनिवास जयपाल,मोतीराम जमेरिया, मदनलाल जमेरिया, डॉ रामेश्वर लाल जमेरिया, घनश्याम जमेरिया,महेंद्र डूकिया आदि ग्रामीण उपस्थित रहे।

RELATED ARTICLES