तीन दिनो में व्यर्थ बहा लाखो लीटर पानी

किशन खटीक

रायपुर 6 अप्रैल, पानी बचाओ-बिजली बचाओ-पेड़ लगाओ-सबको पढ़ाओ का नारा देकर राजस्थान की सरकार आमजन को जागरूक कर रही है वहीं सरकार के ध्येय वाक्य को ठेंगा दिखाते हुए चंबल परियोजना से जुड़े अधिकारी कर्मचारी इस भीषण गर्मी में पिछले 3 दिनों से लाखों लीटर पेयजल व्यर्थ बहा चुके हैं एवं आगे भी बहना जारी है। पंचायत समिति रायपुर के फार्म से गुजर रही चंबल परियोजना की पेयजल लाइन के ऊपर लगे वाल से इतना पानी व्यर्थ बह रहा है जिससे आमजन देखकर मन ही मन दु:ख का अनुभव कर रहा है। पेयजल को बचाने के लिए राजस्थान सरकार सहित कई सामाजिक संस्थाएं एवं समस्त राजकीय विभाग रेलिया निकालकर आमजन को पानी-बिजली-पर्यावरण-शिक्षा की ओर जागरूक कर रहे हैं पर यहां इसके विपरीत घोर लापरवाही बरती जा रही है। इस व्यर्थ बहते हुए पेयजल को नहीं रोका गया तो आने वाले समय में रायपुर कस्बे के लिए पेयजल संकट खड़ा हो सकता है। सामाजिक संस्थाओं द्वारा भीषण गर्मी में जगह जगह प्याऊ बिठाकर आमजन की प्यास बुझाने के लिए यत्न किए जा रहे हैं लेकिन इधर पेयजल को व्यर्थ बहाया जा रहा है। यह व्यर्थ बहता हुआ पेयजल सबको प्रेरित करने के बजाय निराश कर रहा है।