नगर विकास मंत्री धारीवाल को जिंदल की ब्लास्टिंग से आई दरारों को लेकर संघर्ष सेवा समिति पुर ने सोपा ज्ञापन

महेन्द्र नागौरी

भीलवाड़ा | शहर क़े उपनगर पुर में जिंदल शा लि के खनन कार्य से आई दरारों के पीड़ितों को भूखंड आवंटन के बाद नया पुर योजना पर स्थानीय ग्राम वासियों ने उक्त योजना पर स्थगन ले लिया इससे पीड़ित परिवारों को मिलने वाले भूखंडों की कार्यवाही अधूरी रह गई है।
शुक्रवार को नगर विकास मंत्री धारीवाल के भीलवाड़ा प्रवास के दौरान जिंदल की ब्लास्टिंग से आई दरारों को लेकर संघर्ष सेवा समिति पुर के योगेश सोनी के नेतृत्व में दो पेजीय ज्ञापन सोपा ।
सोपे ज्ञापन में कहा गया कि पुर के क्षतिग्रस्त मकानों के सैकड़ों मकान मालिक सरकारी रेन बसेरों व किराए के मकानों में रहने को मजबूर हो रहे है ,कार्यवाही को करीबन 2 साल से भी ज्यादा समय हो गया है,इस समस्या के समाधान को लेकर समिति ने कितने ही ज्ञापन कलक्टर, नगर विकास न्यास को दिए लेकिन न तो स्थगन को हटवाया गया न भूखंड दिए गए और पुर जनता को 333 रुपये की जगह एक रुपैया टोकन मनी पर भूखंड दिए जाए जबकि पुर में जनसुनवाई की उसमे जिला कलक्टर ने ₹108 मैं भूखंड देने की बात कही थी।
पुर की जनता में भारी आक्रोश है समय रहते उक्त स्थगन को हटाने की कार्यवाही नहीं की गई तो पुर की जनता फिर से एक बार विशाल आंदोलन की राह अपना सकते है ।
कि जिला कलक्टर को आदेश दिलावे की इस कार्यवाही को कछुआ चाल नहीं चलाते हुए इस पर त्वरित कार्यवाही किये जाने की मांग की है ।
विदित रहे पिछले दिनों ही
जिंदल शा को दोषी मानते हुवे एनजीटी कोर्ट ने 4करोड़ का जुर्माना ठोका था ।
ज्ञापन देने के दौरान
पुर संघर्ष समिति के योगेश सोनी,महासचिव महावीर,उपाध्यक्ष राजेश कणावर्ट, रोशन लाल महात्मा, सत्यनारायण विश्नोई मनोज छिपा आदि मौजूद थे ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here