Homeराजस्थानजयपुरभोजपुरा ग्राम में कुआं ढहने से मजदूर की मिट्टी में दबने से...

भोजपुरा ग्राम में कुआं ढहने से मजदूर की मिट्टी में दबने से हुई मौत,


भोजपुरा ग्राम में कुआं ढहने से मजदूर की मिट्टी में दबने से हुई मौत,

दो घंटे की काफी मशक्कत के बाद मृतक मुकेश माली को निकाला कुए से बाहर।

महेंद्र कुमार सैनी

स्मार्ट हलचल/नगरफोर्ट तहसील क्षैत्र की ग्राम पंचायत फुलेता के भोजपुर गांव में शुक्रवार को कुएं की सुरंग भरने उतरे तीन श्रमिक कुए का मालबा ढहने से एक मजदूर कि मलबे में दबने से मौके पर ही मौत हो गई। दूसरे श्रमिक को टोंक सहादत अस्पताल में भर्ती करवाया गया।
मौके पर पहुंचे नगरफोर्ट थाना अधिकारी दिलीप सहल ने बताया कि मृतक सुरेश सैनी पुत्र कल्याणमल सैनी उम्र 30 वर्ष निवासी सहादत नगर की कुए के मलबे में दबने से मौके पर ही मौत हो गई। दूसरे श्रमिक पप्पू सैनी पुत्र कल्याण मल सैनी उम्र 33 वर्ष निवासी सहादत नगर जो कि मृतक का भाई था जिसे टोंक सआदत अस्पताल में भर्ती करवाया गया। तीसरा श्रमिक चेतन माली के पैरों में चोट आई है।
करीब 10 दिनों से कुएं पर कर रहे थे कार्य भोजपुरा गांव में तीनों मजदूर करीब 10 दिनों से कुएं पर सुरंग ठीक करने का कार्य कर रहे थे अचानक सुरंग ढहने से तीनों श्रमिक मलबे में दब गए।जिनमें से एक श्रमिक की मौके पर ही मौत हो गई।
क्रेन से निकला गया मृतक का शव
भोजपुरा गांव में कुए का मालवा ढहने की सूचना मिलने पर नगर फोर्ट पुलिस मौके पर पहुंची तुरंत क्रेन की व्यवस्था कर मलबे को हटाया गया करीब 2 घंटे के बाद तीनों मजदूरों को कुए से निकाल गया। मर्तक के तीन बच्चे थे। नगरफोर्ट पुलिस ने बताया कि मृतक मुकेश सैनी शादीशुदा था मृतक मेहनत मजदूरी कर अपनी रोजी-रोटी का जुगाड़ करता था।मृतक के तीन बच्चे थे। थाना अधिकारी ने बताया कि मृतक मुकेश सैनी को नगर फोर्ट अस्पताल लाकर पोस्टमार्टम कर शव परिजनों के सपुर्द कर दिया है। समाचार लिखे जाने तक परिजनों ने नगर थाने में रिपोर्ट पेश नहीं की हे। पुलिस ने मृतक के कुएं में दबने की जांच शुरू कर दी है।
परिजनों का रो-रो कर हुआ बुरा हाल
मृतक मुकेश सैनी के परिजन मौके पर पहुंचे परिजनों का मौके पर ही रो रो कर बुरा हाल हो गया।

RELATED ARTICLES