Homeभीलवाड़ाफैक्ट्री में मजदूर की मौत के बाद प्रदर्शन,8.50 लाख मुआवजे पर बनी...

फैक्ट्री में मजदूर की मौत के बाद प्रदर्शन,8.50 लाख मुआवजे पर बनी सहमती

मुकेश खटीक
मंगरोप।भीलवाड़ा-चित्तौड़गढ रोड पर स्थित एक फैक्ट्री में कार्यरत मजदूर कि बीती रात संदिग्ध अवस्था में मौत हों गई।युवक कि मौत के समाचार मिलने के बाद परिवार में मातम पसर गया।हादसे को लेकर सोमवार सुबह परिजन एवं ग्रामीणों नें फैक्ट्री के बाहर प्रदर्शन शुरू कर दिया।जानकारी के अनुसार मंगरोप थाना क्षेत्र के गठिला खेड़ा चौराहा स्थित सन प्लाजा फैक्ट्री में कार्यरत युवक कि रविवार रात्रि में संदिग्ध अवस्था में मौत हों गई।सोमवार सुबह परिजन एवं ग्रामीणों नें फैक्ट्री के बाहर प्रदर्शन शुरू कर दिया।एहतियात के तौर पर मंगरोप थाना व मण्डपिया चौकी पुलिस मौके पर पहुंची।पुलिस नें फैक्ट्री प्रबंधन और परिजनों के बीच सुलह करानें का प्रयास किया।लेकीन सहमती नहीं बन पाई।प्राप्त जानकारी के अनुसार जिले के काछोला क्षेत्र के भगुनगर निवासी 40 वर्षीय शैतान सिंह पुत्र दौलत सिंह राजपूत कि बीती रात चित्तौड़गढ रोड पर स्थित फैक्ट्री में संदिग्ध अवस्था में मौत हों गई।
साथी मजदूरों कि सुचना पर पहुंचे परिजनों एवं मजदूरों नें मृतक के आश्रितों को मुआवजा देलाने कि मांग को लेकर सोमवार सुबह बड़ी संख्या में इकट्ठे होकर धरना प्रदर्शन शुरू किया।समाज सेवी सूर्या वैष्णव,देवकिशन मुंदड़ा,जितेन्द्र सिंह राजपूत,महावीर प्रजापत आदि नें बताया कि मृतक युवक सन प्लाजा फैक्ट्री में करीब 10 साल से लूम खाते में काम कर रहा था।मृतक शादीशुदा है और उसके एक 10 साल कि बेटी एवं 5 साल का बेटा है।मृतक के परिजनों नें फैक्ट्री प्रबंधन से 25 लाख रूपये कि मुआवजा राशि कि मांग की।मृतक की आर्थिक स्थति कमजोर है।करीब 6 घण्टे के प्रदर्शन के बाद फैक्ट्री प्रबंधन नें मृतक के परिजनों को 8.50 लाख रूपये देने पर सहमती जताई।मृतक के दोनों बच्चों के नाम चार-चार लाख रूपये की एफड़ी एवं 50 हजार रूपये मृतक के पिता को अन्तिम क्रियाक्रम के लिए दिए।

RELATED ARTICLES